• Home  »  अभी अभीटॉपदेशवीडियो   »   88 साल के हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, प्रधानमंत्री मोदी-राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं

88 साल के हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, प्रधानमंत्री मोदी-राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं

डॉ. मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) ने अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार को हराने के बाद यूपीए गठबंधन में 2004 से 2014 के बीच भारत के 13 वें प्रधानमंत्री के रूप में काम किया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:42 am, Sat, 26 September 20
Manmohan Singh

साल 2004-2014 के बीच यूपीए गठबंधन की सरकार चलाने वाले दिग्गज कांग्रेसी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) आज 88 वर्ष के हो गए हैं. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा डॉ. मनमोहन सिंह जी को जन्मदिन की बधाई. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि उन्हें एक लंबा और स्वस्थ जीवन दें.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने डॉ. मनमोहन सिंह को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए लिखा कि आज देश उनके जैसी गहरी समझदारी रखने वाले पीएम की कमी को महसूस कर रहा है. उनकी ईमानदारी, गरिमा और उनका समर्पण हम सबके लिए प्रेरणा का स्रोत है.

प्रधानमंत्री बनने से पहले मनमोहन सिंह के जीवन का सबसे मज़बूत लम्हा 1991 में नरसिम्हा राव सरकार में आर्थिक सुधारों का था. वह नरसिम्हा राव की सरकार में वित्त मंत्री थे.  1991 के बजट में आधुनिक भारत के लिए एक के बाद एक आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाने के रोडमैप की नींव रखी गई. सिंह ने कहा, यह एक कठिन विकल्प और एक साहसिक निर्णय था और यह संभव इस वज़ह से हुए क्योंकि प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने मुझे फैसले लेने की आज़ादी दी थी. उन्होंने अपने करियर में आरबीआई गवर्नर के पद की जिम्मेदारी भी निभाई.

उनकी शिक्षा और जन्म

मनमोहन सिंह का जन्म 26 सितंबर, 1932 को भारत के विभाजन से पहले पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हुआ था. उन्होंने पंजाब विश्वविद्यालय, कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय से अपनी एजुकेशन पूरी की. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में उन्होंने डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की. बाद में उन्होंने पंजाब विश्वविद्यालय के साथ-साथ दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स और दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाया भी.

13वें प्रधानमंत्री बने

डॉ. मनमोहन सिंह ने अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार को हराने के बाद यूपीए गठबंधन में 2004 से 2014 के बीच भारत के 13 वें प्रधानमंत्री के रूप में काम किया. उन्होंने 1998 से 2004 तक राज्यसभा में विपक्ष के नेता के रूप में काम किया.

रिजर्व बैंक के गवर्नर भी रहे

उन्होंने साल 1982 से 1985 तक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर के रूप में भी काम किया. सिंह ने 1972 और 1976 के बीच मुख्य आर्थिक सलाहकार समेत कई प्रमुख पदों पर कार्य किया. 1985 से  1987 तक वे योजना आयोग के प्रमुख थे.

संयुक्त राष्ट्र में दो बार किया काम

मनमोहन सिंह ने संयुक्त राष्ट्र के साथ भी 2 बार काम किया, जिसमें यूनाइटेड नेशंस कॉन्फ्रेंस ऑन ट्रेड एन्ड डिवेलपमेंट (UNCTAD) के इकोनॉमिक अफेयर्स ऑफीसर के रूप में 1966 – 1969 में सेवाएं दीं. 1987-1990 के बीच साउथ कमीशन के वह सेक्रेट्री जनरल रहे. मनमोहन सिंह वर्तमान में राज्य सभा के सदस्य हैं.