जेल में अच्छे व्यवहार के चलते आजीवन कारावास से रिहा हुआ जेसिका लाल हत्याकांड का दोषी मनु शर्मा

हरियाणा के पूर्व मंत्री विनोद शर्मा के बेटे मनु शर्मा को दिसंबर 2006 में दिल्ली हाई कोर्ट ने 1999 में जेसिका लाल की हत्या के लिए उम्र कैद की सजा सुनाई थी.
jessica lal murder convict manu sharma released from jail, जेल में अच्छे व्यवहार के चलते आजीवन कारावास से रिहा हुआ जेसिका लाल हत्याकांड का दोषी मनु शर्मा

जेसिका लाल हत्याकांड में दिल्ली की तिहाड़ जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु शर्मा को रिहा कर दिया गया है. दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने ये फैसला लिया है. सजा समीक्षा बोर्ड (SRB) की बैठक में मनु शर्मा की समय पूर्व रिहाई की सिफारिश किए जाने के बाद उपराज्यपाल द्वारा ये फैसला लिया गया.

आपको बता दें कि सजा समीक्षा बोर्ड उन कैदियों को रिहा करने की समीक्षा करता है, जिनका आचरण जेल में सही रहता है. हरियाणा के पूर्व मंत्री विनोद शर्मा के बेटे मनु शर्मा को दिसंबर 2006 में दिल्ली हाई कोर्ट ने 1999 में जेसिका लाल की हत्या के लिए उम्र कैद की सजा सुनाई थी.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

पिछले 2 साल से मनु शर्मा तिहाड़ में ओपन जेल में था, जहां सुबह वो जेल से बाहर होता था और शाम होने से पहले वापस जेल आना होता था. 2017 में भी सेंटेंस रिव्यु बोर्ड के सामने याचिका गई थी, जिसे उस वक्त निरस्त कर दिया गया था.

जानकारी के मुताबिक मनु शर्मा के पिछले कुछ सालों के अच्छे आचरण को देखते हुए ये फैसला लिया गया है. इस बोर्ड में दिल्ली होम मिनिस्टर, डीजी प्रिजन, प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम, प्रिंसिपल सेक्रेटरी लॉ, जॉइंट सीपी क्राइम, चीफ प्रोबेशन अफसर (दिल्ली सरकार) और जिला जज शामिल थे.

Related Posts