Flood Updates: उत्तराखंड में टूटा पुल, दिल्ली में ढहे मकान, असम में बाढ़ से अबतक 84 मौतें

दिल्ली (Delhi) में रविवार सुबह भारी बारिश का असर यातायात पर पड़ा, जिससे लोगों को मुश्किलों का सामान करना पड़ा. राजधानी के लगभग हर हिस्से से जल-जमाव की खबरें आईं.
Many parts of country, Flood Updates: उत्तराखंड में टूटा पुल, दिल्ली में ढहे मकान, असम में बाढ़ से अबतक 84 मौतें

देश के कई हिस्से इन दिनों भारी बारिश (Rain) और बाढ़ (Flood) के हालात का सामना कर रहे हैं. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने असम (Assam) में बाढ़ और कोरोना के हालात का जायजा लेने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को फोन किया. इस दौरान उन्होंने बागजान तेल कुंआ में लगी आग के बारे में भी जानकारी ली.

असम में बाढ़ से 84 लोगों की मौत

असम में रविवार को बाढ़ की स्थिति में हालांकि थोड़ा सुधार आया, बावजूद पांच लोगों की मौत हो गई, जिससे यहां बाढ़ से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 84 हो गई. वहीं 33 जिलों में से 24 जिलों के 25.30 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं.


सीएम सोनोवाल ने ट्वीट किया, “उन्होंने अपनी चिंता व्यक्त की और लोगों के साथ एकजुटता दिखाई. प्रधानमंत्री ने राज्य को हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया.”

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

एक अधिकारी ने कहा कि बातचीत के दौरान, मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को बताया कि बाढ़ से 24 जिले प्रभावित हुए हैं. राज्य सरकार बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत शिविरों में रख रही है और उन शिविरों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का ख्याल रखा जा रहा है.

बारिश के पानी में डूबीं दिल्ली की सड़कें

दिल्ली में रविवार सुबह भारी बारिश का असर यातायात पर पड़ा जिससे लोगों को मुश्किलों का सामान करना पड़ा. राजधानी के लगभग हर हिस्से से जल-जमाव की खबरें आईं. सबसे ज्यादा प्रभावित नई दिल्ली क्षेत्र रहा जहां मिंटो ब्रिज के नीचे जल भराव में डूबने से एक टेम्पो चालक की मौत हो गई.

जल-जमाव के कारण विभिन्न स्थानों पर यातायात प्रभावित हुआ. प्रभावित इलाके साउथ एवेन्यू रोड, विनय मार्ग, रेलवे पुल के नीचे बहादुर शाह जफर मार्ग, धौला कुआं, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, मिंटो रोड, गुरु नानक चौक, आजाद मार्केट रेलवे ब्रिज, मूलचंद अंडरपास, सेंट्रल स्कूल एलएल राय मार्ग, मोदी मिल, पुल प्रहलादपुर, प्रेमबाड़ी अंडरपास रहे.


दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा,”आईपी डिपो के पास रिंग रोड पर स्थित WHO की इमारत NBCC द्वारा निमार्णाधीन है. आज लगभग 8.30 बजे WHO के पास से गुजर रहे एक नाले का किनारा टूट गया और कुछ झुग्गियां भी पानी में गिर गईं. रिंग रोड और आस-पास के इलाकों आईपी मार्ग सहित विकास भवन के पास पानी का बहाव रहा.”

बिहार में बिजली गिरने से 10 लोगों की मौत

बिहार के विभिन्न जिलों में रविवार को आकाशीय बिजली (वज्रपात) गिरने की अलग-अलग घटनाओं में 10 लोगों की मौत हो गई. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में वज्रपात से हुई 10 लोगों की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए मृतकों के आश्रितों को तत्काल चार-चार लाख रुपये अनुग्रह राशि देने के निर्देश दिए हैं.

बिहार में रविवार को वज्रपात की चपेट में आकर पूर्णिया जिले में तीन, बेगूसराय में दो तथा पटना, सहरसा, पूर्वी चम्पारण, मधेपुरा एवं दरभंगा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई.

नेपाल से आने वाली नदियों में उफान के कारण बाढ़ की आशंका भी गहराती जा रही है. तटबंधों पर दबाव काफी बढ़ गया है. कई नए इलाकों में पानी घुस गया है.

नदियों के तेज बहाव से सड़कों का संपर्क टूट गया है. हालांकि ऐसा नहीं है कि यह खतरा अचानक से आया है बल्कि पहले से ही इसकी अंदेशा जताई जा रही थी. सड़कें जलमग्न हो चुकी हैं और हजारों लोगों को विस्थापित होना पड़ रहा है.

उत्तराखंड में बाढ़ मचा रही तबाही

वहीं, उत्तराखंड की गोरी नदी में चार घर और जिले के बंगापानी सब डिवीजन के छोरी बाग गांव में खेती योग्य भूमि का बड़ा हिस्सा बह गया. रविवार को लगातार हो रही बारिश के चलते पिथौरागढ़ मुनस्यारी रोड पर मदखोट में पुल का एक हिस्सा भी ढह गया.


आसपास के इलाकों में रहने वाले लोग सुरक्षा के चलते पहले ही अपने घरों को छोड़कर जा चुके थे, इसलिए इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ.

बद्रीनाथ राजमार्ग भंवरानी और पीपलकोटी क्षेत्र में भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन के कारण बंद हो गया था. चमोली जिला प्रशासन और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) को राजमार्ग को साफ कर किया. जिला प्रशासन की ओर से फंसे हुए यात्रियों को पानी की बोतल और बिस्किट बांटे गए.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts