मायावती ने दुष्यंत चौटाला की पार्टी से तोड़ा गठबंधन, हरियाणा में अकेले चुनाव लड़ेगी BSP

मायावती ने कहा कि दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी से सीटों के मुद्दे पर समझौता नहीं हो सका है.

बहुजन समाज पार्टी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव पहले जननायक जनता पार्टी से नाता तोड़ लिया है. बसपा ने अब अकेले ही चुनाव लड़ने का फैसला किया है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट करके खुद इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी से सीटों के मुद्दे पर समझौता नहीं हो सका है.

मायावती ने ट्वीट किया, “बीएसपी एक राष्ट्रीय पार्टी है जिसके हिसाब से हरियाणा में होने वाले विधानसभा आमचुनाव में श्री दुष्यन्त चैटाला की पार्टी से जो समझौता किया था वह सीटों की संख्या व उसके आपसी बंटवारे के मामले में उनके अनुचित रवैये के कारण इसे बीएसपी हरियाणा यूनिट के सुझाव पर आज समाप्त कर दिया गया है.”

‘सभी सीटों पर लड़ेंगे चुनाव’
बसपा सुप्रीमो ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि बीएसपी अकेले ही अपनी पूरी तैयारी के साथ यहां सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी. उन्होंने ट्वीट किया, “ऐसी स्थिति में पार्टी हाईकमान ने यह फैसला किया है कि हरियाणा प्रदेश में शीघ्र ही होने वाले विधानसभा आमचुनाव में अब बीएसपी अकेले ही अपनी पूरी तैयारी के साथ यहां सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी.”


बता दें कि हरियाणा में इसी साल विधानसभा चुनाव होने वाला है. माना जा रहा है कि मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच होगा. इंडियन नेशनल लोकदल पहले ही टूट चुकी है. इससे अलग होकर पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला के पोते दुष्यंत चौटाला ने जननायक जनता पार्टी का गठन किया है.

ये भी पढ़ें-

‘चंद्रयान-2 95 प्रतिशत सलामत, एक साल तक चंद्रमा की तस्वीरें भेजता रहेगा ऑर्बिटर’

Chandrayaan 2: मायूसियों के बीच पीएम ने वैज्ञानिकों का बढ़ाया हौसला, जानिए किसने क्या कहा?

Chandrayaan 2 Updates: उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, देश को आप पर गर्व है ISRO: पीएम मोदी