सिख लड़की के अपहरण पर MEA ने पाकिस्तान हाई कमीशन के अधिकारियों को किया समन

पाकिस्तान (Pakistan) के मानवाधिकार कार्यकर्ता राधेश सिंह टोनी ने कहा कि जबरन धर्मांतरण पाकिस्तान में नियमित मुद्दा बन चुका है. सरकार को लड़की को ढूंढने और उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 7:14 pm, Mon, 21 September 20

पाकिस्तान में एक सिख लड़की के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन कराने के मामले पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान हाई कमीशन के अधिकारियों के समन जारी किया है.

ANI एजेंसी के मुताबिक, सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान में सिख लड़की के अपहरण के मुद्दे पर विदेश मंत्रालय (MEA) द्वारा पाकिस्तान उच्चायोग के वरिष्ठ अधिकारियों को समन जारी किया है.

मालूम हो कि हसन अब्दाल के गुरुद्वारा पांजा साहिब के ग्रंथी प्रीतम सिंह ने उनकी बेटी के जबरन इस्लाम कुबूल कराए जाने का डर जाहिर किया था. सूत्रों के मिली खबर के मुताबिक प्रीतम सिंह की बेटी हसन अब्दाल इलाके से पिछले दस दिनों से गायब है.

पिता ने बेटियों का धर्म खतरे में होने पर जताई चिंता

शुक्रवार को प्रीतम सिंह ने मीडिया (Media) और कुछ सिख निकायों को भेजे गए एक परेशानी भरे संदेश में पंथ को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान में वह गुरुद्वारा डेरा साहिब लाहौर में हैं. उन्होंने कहा कि वह बहुत ही चिंतित और परेशान है, क्यों कि उनकी बेटियों का धर्म खतरे में है, उनकी बेटी इस समय निर्दयी लोगों के पास कैद है.

इस घटना की पुष्टि करते हुए पाकिस्तान (Pakistan) के मानवाधिकार कार्यकर्ता राधेश सिंह टोनी ने कहा कि जबरन धर्मांतरण पाकिस्तान में नियमित मुद्दा बन चुका है. सरकार को लड़की को ढूंढने और उसकी और उसके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए.