Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती
Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

सुप्रीम कोर्ट ने महबूबा मुफ्ती को हिरासत में रखे जाने को लेकर जम्मू-कश्मीर प्रशासन को 2 मार्च को जवाब दाखिल करने का नोटिस जारी किया था.
Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती छह महीने से ज्यादा समय से हिरासत में हैं. उनकी बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने बुधवार को अपनी मां की हिरासत को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट में दस्तक दी. पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती पर Public Safety Act (PSA) लगाया गया है, जो बिना सुनवाई के दो साल तक हिरासत में रखने की अनुमति देता है.

इल्तिजा मुफ्ती अपनी मां महबूबा मुफ्ती का ट्विटर अकांउट खुद चलाती हैं. उन्होंने बाद में ट्वीट किया, “मेरा कातिल ही मेरा मुंसिफ है…क्या मेरे हक में फैसला देगा.”

सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले उमर अब्दुल्ला की बहन सारा अब्दुल्ला पायलट की याचिका पर सुनवाई करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री को हिरासत में रखे जाने को लेकर जम्मू-कश्मीर प्रशासन को 2 मार्च को जवाब दाखिल करने का नोटिस जारी किया था.

उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती पर 6 जनवरी को PSA के तहत मामला दर्ज किया गया.

सांसद और तीन बार के पूर्व मुख्यमंत्री व उमर अब्दुल्ला के पिता फारूक अब्दुल्ला पर 16 सितंबर, 2019 को PSA के तहत मामला दर्ज किया गया था.

-IANS

ये भी पढ़ें-

Delhi Violence: दिल्ली HC का आदेश, 4 BJP नेताओं सहित विवादित वीडियो पर पुलिस दर्ज करे FIR

दंगों की आग में झुलसी दिल्ली की सिसकियों को जुबां देती तस्वीरें

बिहार : NPR और NRC पर प्रशांत किशोर ने की नीतीश कुमार की तारीफ

Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती
Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

Related Posts

Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती
Mehbooba Mufti daughter, महबूबा मुफ्ती की बेटी ने उनकी कस्टडी को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती