शिवसेना का बयान-देवड़ा का ट्वीट, महाराष्ट्र में नए राजनीतिक अध्याय का इशारा तो नहीं?

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यिारी ने शनिवार को बीजेपी से सरकार बनाने के लिये अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराने को कहा था.
Maharashtra crisi, शिवसेना का बयान-देवड़ा का ट्वीट, महाराष्ट्र में नए राजनीतिक अध्याय का इशारा तो नहीं?

महाराष्ट्र में शिवसेना बीजेपी को समर्थन देने को तैयार नहीं है लेकिन वो कांग्रेस को बाहर से समर्थन दे सकती है. शिवसेना सांसद संजय राउत के एक बयान के बाद पिछले 15 दिनों से चल रही सियासी घमासान थमता नज़र आ रहा है.

रविवार को शिवसेना ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. जिसमें पार्टी प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि ‘अगर कोई सरकार बनाने को तैयार नहीं है तो शिवसेना यह जिम्मा ले सकती है. कांग्रेस राज्य की दुश्मन नहीं है. सभी पार्टियों की कुछ मुद्दों पर अलग राय हो सकती है.’

वहीं बीजेपी पर निशाना साधते हुए राउत ने कहा, ‘शिवसेना ने कभी व्यापार नहीं किया. जो बड़ा पक्ष होता है उसे खुद दावा करना चाहिए.’

शिवसेना के इस बयान के थोड़ी ही देर बाद कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘महाराष्ट्र के राज्यपाल को दूसरा सबसे बड़ा गठबंधन एनसीपी-कांग्रेस को सरकार बनाने का न्योता भेजना चाहिए. क्योंकि बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने पहले ही सरकार बनाने से मना कर दिया है.’

शिवसेना का कांग्रेस के प्रति नरम रवैया और फिर देवड़ा का ये ट्वीट राज्य में नए समीकरण की तरफ इशारा कर रहा है.

वहीं कार्यवाहक मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के घर पर बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक चल रही है. इस बैठक में बीजेपी के सभी विधायक मौजूद है. माना जा रहा है कि इस बैठक में सरकार गठन पर चर्चा चल रही है.

ज़ाहिर है राज्यपाल भगत सिंह कोश्यिारी ने शनिवार को बीजेपी से सरकार बनाने के लिये अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराने को कहा था.

Related Posts