370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में पहली आतंकी वारदात, दो को किडनैप कर एक को मार डाला

पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने सोमवार को पुलवामा जिले के जंगलों से गुज्जर समुदाय से ताल्लुख रखने वाले दो लोगों को अगवा किया और बाद में एक की गोली मारकर हत्या कर दी.

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने एक गुज्जर समुदाय के व्यक्ति की हत्या कर दी. इससे पहले आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के वन क्षेत्र से गुज्जर समुदाय के दो लोगों का अपहरण किया था. जिसमें से एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सोमवार की शाम अज्ञात बंदूक धारियों ने सोमवार की शाम 7.30 बजे पुलवामा जिले के त्राल इलाके के वन क्षेत्र से खानाबदोश गुज्जर समुदाय को दो लोगों राजोरी जिले के अब्दुल कादिर कोहली और श्रीनगर के खोनमोह इलाके के मंजूर अहमद का ‘ढोक’ (जंगल में अस्थाई ठिकाना)से अपहरण कर लिया.

इसकी जानकारी मिलने पर दोनों की तलाश शुरू की गई थो कोहली का गोलियों से छलनी शव बरामद हुआ. जबकि मंजूर अहमद की तलाश की जा रही है. पुलिस ने बताया कि दोनों को अज्ञात बंदूकधारी शाम करीब 7.30 बजे अगवा किया.

घाटी में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पहली घटना है. पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने सोमवार को पुलवामा जिले के जंगलों से गुज्जर समुदाय से ताल्लुख रखने वाले दो लोगों को अगवा किया और बाद में एक की गोली मारकर हत्या कर दी.