बीते 72 घंटों में आतंकियों के लिए कब्रगाह बना कश्‍मीर, राइफलमैन औरंगजेब का हत्‍यारा भी ढेर

भारतीय सेना के राइफलमैन औरंगजेब की हत्‍या में शामिल शौकत अहमद डार को मार गिराया गया है.
पुलवामा, बीते 72 घंटों में आतंकियों के लिए कब्रगाह बना कश्‍मीर, राइफलमैन औरंगजेब का हत्‍यारा भी ढेर

श्रीनगर: जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई. अवंतीपोरा इलाके पंजगाम गांव में 55 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और पुलिस ने संयुक्‍त अभियान में तीन आतंकी मार गिराए गए हैं. सोपोर में भी एक आतंकी को ढेर किया गया है. सुरक्षा बलों ने पुलवामा के मुर्रान गांव में भी तलाशी अभियान शुरू किया है. क्षेत्र में प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगा दी है. श्रीनगर और जम्मू क्षेत्र के बनिहाल में ट्रेन सेवाएं रद्द कर दी गई हैं.

पुलिस ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के बाद पंजगाम गांव में रात में सुरक्षाबलों ने घेराव कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया. छिपे हुए आतंकवादियों को चुनौती देने पर उन्होंने सुरक्षा बलों पर फायरिंग करनी शुरू कर दी, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई.

मुठभेड़ स्‍थल से एके 56 राइफल के अलावा और हथियार भी बरामद हुए हैं. मारे गए आतंकियों की पहचान पंजगाम के शौकत अहमद डार, सोपोर के इरफान अहमद, पुलवामा के मुजफ्फर अहमद के रूप में हुई है. तीनों हिज्‍बुल मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे.

शौकत डार का पुराना इतिहास रहा है. वह कई आतंकी हमलों में शामिल रहा है. पिछले साल भारतीय सेना के राइफलमैन औरंगजेब की हत्‍या जिस समूह ने की थी, डार उसका सदस्‍य था. वह पुलिकर्मी आकिब अहमद की हत्‍या में भी शामिल था. इरफान इलाके के कई सुरक्षा प्रतिष्‍ठानों पर हमले में लिप्‍त रहा है. मुजफ्फर शेख के नाम पर भी कई आतंकी घटनाएं अंजाम देने के मामले दर्ज हैं.

दूसरी तरफ, सोपोर में भी सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की सूचना है. सेना की 22 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और सोपोर पुलिस की टीम ने यहां एक आतंकी को मार गिराया गया है. हालांकि उसकी पहचान अभी स्‍पष्‍ट नहीं हो सकी है.

अनंतनाग में भी मुठभेड़

दूसरी तरफ, अनंतनाग जिले के देहरूना इलाके में भी सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच फायरिंग हुई. रिपोर्ट्स के अनुसार, आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर जब 19 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और एसओजी की टीम ने घेराबंदी की तो फायरिंग शुरू हो गई. एक अधिकारी ने कहा कि सारे एग्जिट प्‍वॉइंट्स बंद कर तलाशी ली गई मगर आतंकी बचकर भाग निकलने में सफल रहे.

कश्‍मीर में लगातार तलाशी अभियान चलाए जा रहे हैं. गुरुवार को पुलवामा और शोपियां में हुई गोलीबारी में कुल पांच आतंकवादी, 2 स्थानीय नागरिक मारे गए और 2 जवान शहीद हो गए थे. उसी दिन कुपवाड़ा के कांडी जंगलों में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई तीसरी गोलीबारी में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

ये भी पढ़ें

विंग कमांडर अभिनंदन के शौर्य को पढ़ेंगे राजस्थान के बच्चे, पाठ्यक्रम में शामिल हुई बालाकोट एयर स्ट्राइक

एंटी नेशनल कहे जाने पर मुझे गर्व है: महबूबा मुफ्ती

Related Posts