विदेश से आने वालों के लिए होटल क्‍वारंटीन सिर्फ 7 दिन, MHA ने राज्‍यों को जारी की गाइडलाइन

विदेशों से लौटे जिन भारतीयों को होटलों में क्‍वारंटीन (Quarantine) रहने के लिए 14 दिन की एडवांस पेमेंट देनी पड़ी थी, वो अब 7 दिन का क्‍वारंटीनपीरियड खत्म कर घर जा सकते हैं.
Ministry of Home Affairs, विदेश से आने वालों के लिए होटल क्‍वारंटीन सिर्फ 7 दिन, MHA ने राज्‍यों को जारी की गाइडलाइन

गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) ने विदेशों से आने वालों को 7 दिनों का क्‍वारंटीन पीरियड (Quarantine period) रखने के निर्देश दिए हैं. मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों लेटर लिखकर इस बारे में सूचित किया है. इससे पहले सरकार ने विदेशों में फंसे भारतीयों के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (Standard operating procedure) जारी किए थे, जिसमें कहा गया था कि होटलों में क्‍वारंटीन किए गए लोगों इसके लिए भुगतान करना होगा. इसमें प्रेग्नेंट महिलाओं और परेशान लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

केंद्रीय गृह सचिव ने कहा, “विदेशों से लौटे जिन भारतीयों को होटलों में क्‍वारंटीन रहने के लिए 14 दिन की एडवांस पेमेंट देनी पड़ी थी, वो अब 7 दिन का क्‍वारंटीन पीरियड खत्म कर घर जा सकते हैं. होटल उनको बचे हुए 7 दिनों के पैसे वापस लौटा दें.”

कुछ होटल लोगों के बचे हुए पैसे लौटने से मना कर रहे हैं. जिसे लेकर लेटर में कहा गया है, ‘राज्यों से अनुरोध है कि लोगों को क्‍वारंटीन रखने के लिए इस्तेमाल किए गए होटलों को जरूरी निर्देश जारी किए जाएं. 14 दिन कि एडवांस पेमेंट देने वालों के बचे हुए पैसे बिना किसी देरी के लौटा दिए जाने चाहिए.’

विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने की अनुमति

बता दें केंद्र सरकार ने 24 मई को एसओपी जारी कर कहा गया था कि विदेश से आने लोगों को 14 दिन के अनिवार्य क्‍वारंटीन पीरियड में रहना होगा. लॉकडाउन से पहले विदेश जाकर फंसे हुए व्यक्ति, छात्र, नौकरीशुदा व्यक्ति, व्यवसायी या जो भारत में मेडिकल इमरजेंसी की वजह से जो स्वदेश वापस आना चाहते हैं उन्हें लिए कुछ जरूरी शर्तों के साथ वापस आने की परमिशन दी जाएगी.

  • ऐसे लोगों को विदेश में भारतीय दुतवास में रेजिस्ट्रेशन करना होगा.
  • विदेश विभाग के अधिकृत नोडल अधिकारी इसको कोऑर्डिनेट करेंगे.
  • आने वाले यात्री का समूचा डिटेल लिया जाएगा. नाम, मोबाइल नम्बर, विदेश में निवास स्थान. इंडिया आने से पहले कहां-कहां कितने दिन रहे जैसे सभी डिटेल देना होगा.
  • आगंतुक के कोरोना संक्रमण जांच RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट भी लगाना होगा.
  • आने वाले यात्री को यात्रा का पूरा खर्च स्वयं ही वहन करना होगा. साथ ही भारत आने पर स्वस्थ मंत्रालय के दिशानिर्देशों के हिसाब से उन्हें 14 दिन क्वारंटाइन भी रहना होगा.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts