झारखंड में फिर मॉब लिंचिंग, डायन बताकर 2 महिलाओं समेत 4 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला

डायन के संदेह में करीब तीन बजे भोर में 10 से 12 लोगों ने चांपा उरांव के एक घर पर धावा बोल दिया.

नई दिल्ली: देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. ताजा मामला झारखंड के गुमला इलाके से रिपोर्ट हुआ है. यहां पर डायन बताकर महिला समेत 4 लोगों की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है. हालांकि, हत्या की वजह अभी तक साफ नहीं हो पाई है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, डायन के संदेह में करीब तीन बजे भोर में 10 से 12 लोगों ने चांपा उरांव के एक घर पर धावा बोल दिया. हमलावरों ने एक-एक करके चार लोगों को मौत के घाट उतार दिया. और गांव से फरार हो गए. वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई और जांच शुरू कर दिया है.

चारों को कब्जे में लेकर गए गांव से बाहर
रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमलावर लाठी-डंडे और धारदार हथियारों से लैस होकर आए थे. उन्होंने तीन घरों का दरवाजा खुलवाया और चार लोगों को अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद वो उन्हें गांव से बाहर लेकर गए जहां लाठी-ठंडों से पीट-पीटकर मार डाला.

मृतकों की पहचान फगनी देवी (65 वर्ष), चंपा भगत (65 वर्ष), सुना भगत (65 वर्ष) और पेटी भगत के रूप में हुई है. हत्या के बाद से गांव में दहशत का माहौल है. गांव में पुलिसबल की तैनाती कर दी गई है. गांव को लोगों को भी हत्या की वजह ठीक से समझ नहीं आ रही है.

झारखंड में लगातार हो रही मॉब लिंचिंग
बता दें कि झारखंड में इसी साल इससे पहले भी मॉब लिंचिंग की कई घटनाएं दर्ज हुई हैं. मई 2019 में गुमला जिले में ही भीड़ ने चार लोगों की पिटाई कर दी थी. ये चारों मरे हुए बैल का मांस काट रहे थे. पिटाई से एक की मौत हो गई थी.

जून 2019 में तबरेज अंसारी नाम के शख्स को चोरी के आरोप में पीट-पीटकर मार डाला गया था. घटना सरायकेला खरसांवा जिले के घातकीडीह गांव की है. इस शख्स से जय श्री राम और जय हनुमान के नारे भी लगवाए गए थे.

इसी साल मार्च में झारखंड के पलामू में भीड़ ने वकील खान और दानिश खान नाम के दो लोगों को पीट-पीटकर मार डाला था. इनकी हत्या बहन के साथ हुई छेड़खानी का विरोध करने पर की गई थी.

ये भी पढ़ें-

DDLJ थी शीला दीक्षित की फेवरेट फिल्म, इतनी बार देखी कि घरवालों से मिल गई वॉर्निंग

LIVE: पूर्व सीएम शीला दीक्षित का 2.30 बजे अंतिम संस्कार, कांग्रेस हेडक्ववार्टर लाया जाएगा पार्थिव शरीर

पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के सम्मान में दो दिन के राजकीय शोक की घोषणा

Related Posts