मोदी सरकार 100 दिन: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पेश किया खाका, कहा- लिए गए अभूतपर्व निर्णय

प्रकाश जावेड़कर ने कहा कि मोदी 2.0 सरकार के 100 दिनों के अंदर जितने निर्णय लिए गए, उतने किसी भी सरकार ने नहीं लिए हैं. ये 100 दिन निर्णयों से भरे रहे.

नई दिल्ली: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को जोर देकर कहा कि मोदी 2.0 सरकार के 100 दिनों के दौरान अभूतपूर्व निर्णय लिए गए.

केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने के मौके पर जावड़ेकर ने कहा कि इस दौरान लिए गए सबसे बड़े निर्णयों में अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म करना, जम्मू एवं कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों -जम्मू एवं कश्मीर (विधानसभा के साथ) और लद्दाख (विधानसभा के बिना)- में बांटना शामिल है.

उन्होंने कहा कि इसके अलावा अवैध गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम में संशोधन किया गया, जिसके चलते लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) प्रमुख हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) प्रमुख मसूद अजहर, कश्मीर में एलईटी के सुप्रीम कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी और भगोड़े अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को आतंकवादी घोषित किया गया. सभी आतंकवादी पाकिस्तान में रह रहे हैं.

उन्होंने कहा कि ये निर्णय लोक कल्याण, जन सहभागिता, आतंकवाद के खिलाफ और अन्य मुद्दों पर लिए गए. जावड़ेकर ने सरकार के 100 दिन पूरे होने पर एक पत्रिका भी जारी की, जिसका शीर्षक ‘हंड्रेड डेज ऑफ बोल्ड इनीशिएटिव्स एंड डिसीसिव एक्शंस’ है. उन्होंने कहा, “मोदी 2.0 सरकार के 100 दिनों के अंदर जितने निर्णय लिए गए, उतने किसी भी सरकार ने नहीं लिए हैं. ये 100 दिन निर्णयों से भरे रहे.”