अब आएंगे किसानों, MSME और रेहड़ी-पटरी वालों के अच्छे दिन, पढ़ें PC की मुख्य बातें Pointers में

कैबिनेट में किसानों, रेहड़ी-पटरी वालों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के क्षेत्र में महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं. जो MSME उद्योग संकट में है उन्हें इक्विटी प्रदान करते हुए 20,000 करोड़ का पैकेज दिया गया है. MSME के लिए 50,000 करोड़ रुपए के इक्विटी निवेश का ऐलान किया गया.

देश में अनलॉक का आज पहला दिन है. और इसी दिन पीएम नरेंद्र मोदी कैबिनेट की बैठक हुई. सुबह 11 बजे के बाद से शुरू हुई यह बैठक दोपहर तक चली.

इस बैठक में केंद्र सरकार की ओर से किसानों, एमएसएमई और रेहड़ी पटरी वालों के लिए कई महत्‍वपूर्ण फैसले किए गए. चार बजे एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस आयोजित कर बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर, नितिन गडकरी और नरेंद्र तोमर ने मीटिंग में लिए गए इन जरूरी फैसलों की जानकारी दी. आइए जानते हैं प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की हर वो बात जो आपके लिए जाननी जरूरी है.

    • पीएम-स्वनिधि के तहत रेहड़ी-पटरी वालों के मदद के लिए योजना का नाम दिया गया है- नितिन गडकरी
    • एमएसएमई जो एक्सपोर्ट करती है और जिनका रिकॉर्ड अच्छा है उनको शेयर मार्केट में जाने का मौका मिलेगा- नितिन गडकरी
    • 29 फीसदी जीडीपी में MSME का योगदान है. आज 6 करोड़ MSME हैं. यह देश के औद्योगिक विकास में सहयोग करेगा. MSME के लिए 4 हज़ार करोड़ के डिस्ट्रेस फंड का गठन किया गया है- नितिन गडकरी
    • कंपनी के निर्माण में पहले के 20 करोड़ की लागत की जगह 50 करोड़ और टर्नओवर 100 की जगह 250 करोड़ कर दिया गया है-नितिन गडकरी
    • MSME का 29 प्रतिशत GDP में योगदान 48 प्रतिशत- एक्सपोर्ट में योगदान 11 करोड़ जॉब वाला क्षेत्र में बड़े फैसले हुए हैं. MSME में मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस को एक कर दिया है.- नितिन गडकरी
    • सामान्यतः 7 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज और समय पर चुकता करने पर 3 प्रतिशत छूट मिलता है. 31 मई तक पैसा जमा करने की छूट दी गयी थी, जिसे अब बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया है. उन्हें 4 प्रतिशत की पूर्ववत छूट मिलेगी- नरेंद्र सिंह तोमर

  • नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि पीएम की प्राथमिकता गांव, गरीब और किसान हमेशा रहा. लॉकडाउन लागू होने के वक़्त फसल की कटाई खड़ी थी लेकिन सब तरह से मदद और छूट दी गयी लिहाजा बम्पर पैदावार हुई है. एमएसपी में लागत से कम से कम 50% वृद्धि की गई है. जैसे धान-1868 रुपया, ज्वार- 2620 रुपया, बाजरा- 2150 रुपया, रागी-50, मक्का-53, मूंगफली-50, सोयाबीन- 50 की वृद्धि
  • शहरी और आवास मंत्रालय ने विशेष सूक्ष्म लोन योजना शुरू की है. ये रेहड़ी-पटरी वालों की मदद के लिए योजना है. इस योजना से 50 लाख लोगों को लाभ मिलेगा- प्रकाश जावड़ेकर

  • केंद्र सरकार ने करोड़ो किसानों के लाभ के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी कर दिया गया है. लागत से 50 से 83 फीसद तक ज्यादा मूल्य मिलेगा. CACP के तहत 14 फसलों को विशेष छूट दी गई है. किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसानों को ब्याज में छूट.
  • 20 हजार करोड़ के लोन पर लगी औपचारिक मुहर. MSME की परिभाषा को संशोधित किया है.
  • आज कैबिनेट में किसानों, रेहड़ी-पटरी वालों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के क्षेत्र में महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं. जो MSME उद्योग संकट में है उन्हें इक्विटी प्रदान करते हुए 20,000 करोड़ का पैकेज दिया गया है. आज से MSME की परिभाषा बदल दी गई है. MSME के लिए 50,000 करोड़ रुपए के इक्विटी निवेश का ऐलान किया गया.- प्रकाश जावडेकर

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts