‘अगले 10-15 साल क‍पालभाति करो’, विपक्ष को ऐसी सलाह क्‍यों दे रहे हैं रामदेव

रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में देश आर्थिक, वैचारिक और सांस्‍कृतिक गरीबी से आजादी पाएगा.

नई दिल्‍ली: केंद्र में नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल के दोबारा शपथ लेने के बाद योग गुरु बाबा रामदेव ने विपक्ष को अनूठी सलाह दी है. विपक्षी नेताओं पर तंज कसते हुए उन्‍होंने कहा कि वे तनाव कम रखने को अगले 10 से 15 साल ‘कपालभाति’ करें. रामदेव ने ANI से कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में देश आर्थिक, वैचारिक और सांस्‍कृतिक गरीबी से आजादी पाएगा.”

रामदेव ने कहा, “जिन मंत्रियों ने शपथ ली है, चाहे वह अमित शाह हों, पीयूष गोयल हों या नितिन गडकरी हों, वे सभी जनता की अपेक्षाओं पर खरे उतरेंगे. अगले पांच साल वह खूब परिश्रम करेंगे. मुझे लगता है कि अगले 10-15 साल तक, विपक्ष के नेताओं को खूब सारा ‘कपालभाति’ और ‘अनुलोम विलोम’ करने की जरूरत है, तभी जाकर वह अपना तनाव कंट्रोल कर पाएंगे.

मोदी सरकार में कौन-कौन मंत्री

प्रधानमंत्री के साथ गुरुवार को 57 लोगों ने मंत्री पद की भी शपथ ली, जिनमें 24 कैबिनेट मंत्री, नौ राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 24 राज्यमंत्री शामिल हैं. भाजपा नेता राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा नेता नितिन गडकरी, सदानंद गौड़ा और निर्मला सीतारमण, लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) नेता रामविलास पासवान, भाजपा नेता नरेंद्र तोमर, रविशंकर प्रसाद, शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता हरसिमरत कौर बादल, भाजपा नेता थावरचंद गहलोत, पूर्व राजनयिक सुब्रह्मण्यम जयशंकर, भाजपा नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंत्री पद की शपथ ली.

इसके अलावा, भाजपा नेता और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा, भाजपा नेता स्मृति ईरानी, डॉ. हर्षवर्धन, प्रकाश जावड़ेकर, पीयूष गोयल, धर्मेद्र प्रधान, मुख्तार अब्बास नकवी, प्रह्लाद जोशी, महेंद्र पांडे, शिवसेना नेता अरविंद गणपति सावंत, भाजपा नेता गिरिराज सिंह और गजेंद्र सिंह शेखावत ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली.

राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में संतोष कुमार गंगवार, राव इंद्रजीत सिंह, श्रीपद येसो नाइक, डॉ. जितेंद्र सिंह, किरण रिजिजू, प्रह्लाद सिंह पटेल, राजकुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी और मनसुख एल. मांडविया ने शपथ ली. राज्यमंत्री के रूप में फग्गनसिंह कुलस्ते, अश्विनी कुमार चौबे, अर्जुन राम मेघवाल, जनरल (सेवानिवृत्त) वी. के. सिंह, कृष्णपाल गुर्जर, दानवे रावसाहेब दादाराव, जी. किशन रेड्डी ने राष्‍ट्रपति के समक्ष शपथ ली.

वहीं पुरोषत्तम रूपाला, रामदास अठावले, साध्वी निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो, संजीव कुमार बालियान, धोत्रे संजय शामराव, अनुराग ठाकुर, अंगाड़ी सुरेश चन्नाबासप्पा, नित्यानंद राय, रतनलाल कटारिया, वी. मुरलीधरण, रेणुका सिंह सरुटा, सोम प्रकाश, रामेश्वर तेली, प्रताप चंद्र सारंगी, कैलाश चौधरी और देबाश्री चौधरी ने भी शपथ ली.

ये भी पढ़ें

पिछली मोदी सरकार के वो कद्दावर चेहरे जिन्हें इस बार नहीं मिली जगह

कौन है ये मंत्री जिसका नाम सुन अमित शाह ने भी बजाई तालियां, कुटिया से निकलकर पहुंचा रायसीना हिल्स