रॉबर्ट वाड्रा विदेश जाएंगे या नहीं, 13 सितंबर को होगा तय; कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

वाड्रा मनी लॉन्ड्रिंग केस में अग्रिम जमानत पर बाहर हैं. उन्होंने कोर्ट से दूसरी बार ऐसी इजाजत मांगी है. 

नई दिल्ली: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आरोपी रॉबर्ट वाड्रा की विदेश जाने की मांग वाली अर्जी पर राउज एवेन्यू कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया है. कोर्ट अब इस मामले में 13 सितंबर को 2 बजे फैसला सुनाएगा. रॉबर्ट वाड्रा के वकील KTS तुलसी ने कोर्ट को इस पूरे केस के बैकग्राउंड का हवाला देते हुए कहा कि वाड्रा ने कभी भी सबूतों या गवाहों के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश नहीं की, जांच के हिसाब से ये समय भी निर्णायक नहीं है.

वाड्रा बिजनेस टूर के लिए विदेश जाना चाहते हैं. इसलिए बिजनेस एक्सपो बार्सिलोना के लिए उन्होंने 27-30 सितंबर तक का अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है. कोर्ट ने पहले भी विदेश जाने कीअनुमति दी थी. वाड्रा को 20 सितंबर से 8 अक्टूबर तक के लिए जाना है.

वाड्रा के वकील KTS Tulsi की दलीलों का विरोध करते हुए ED के वकील डीपी सिंह ने कहा कि ये तथ्य ग़लत और झूठे हैं वाड्रा विदेश सबूतों को टेंपर करने के लिए जाना चाहते है. सवाल ये नहीं है कि वो वापिस आएंगे या नहीं, सवाल यह है कि जिस काम के लिए ये जाना चाहते है वो बात साउंड नहीं है, इससे पहले वो जब विदेश गए सिर्फ मेडिकल सुविधा के लिए गए.

आपको बता दें कि वाड्रा मनी लॉन्ड्रिंग केस में अग्रिम जमानत पर बाहर हैं. उन्होंने कोर्ट से दूसरी बार ऐसी इजाजत मांगी है.