‘कांग्रेस को बहुमत नहीं मिलेगा, लोकसभा चुनाव बाद हमें गठबंधन करना ही होगा’, बोले कमलनाथ

कमलनाथ ने कहा कि अगर 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस सरकार बनी तो राहुल गांधी प्रधानमंत्री पद के लिए पहली पसंद होंगे।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 में कांग्रेस को बहुमत नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस को चुनाव के बाद गठबंधन करना ही पड़ेगा । हालांकि, कमलनाथ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भी सरकार नहीं बना पाएगी क्योंकि उसके पास बहुमत नहीं होगा। कमलनाथ के अनुसार, कोई भी बड़ी राजनैतिक पार्टी चुनाव बाद अपने दम पर सरकार बनाने की स्थिति में नहीं होगी।

अपने आवास पर दिग्‍गज कांग्रेस नेता कमलनाथ ने पीटीआई से कहा, “निश्चित ही हम बहुत अच्‍छा करेंगे मगर मुझे नहीं लगता कि बहुमत मिलेगा। चुनाव बाद गठबंधन करना ही होगा और उस गठबंधन से कई समीकरण बनेंगे।” उन्‍होंने कहा, “भाजपा यह सोच रही है कि वह बहुमत हासिल कर लेगी मगर यह दूर की कौड़ी है। क्‍योंकि न तो उनके पास संख्‍या-बल होगा, न ही बाकी राजनैतिक दल उनके साथ जाएंगे।

केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने की सूरत में क्‍या राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे? इस सवाल पर कमलनाथ ने कहा, “बिल्‍कुल। अगर हमारे साथ संख्‍या-बल हुआ तो राहुल गांधी ही प्रधानमंत्री होंगे।” पार्टी की न्‍यूनतम आय गारंटी योजना ‘न्‍याय’ के बारे में कमलनाथ ने कहा कि “यह एक क्रांतिकारी योजना है जो पांच करोड़ परिवारों को गरीबी से बाहर निकालेगी।” उन्‍होंने कहा कि हम इस योजना को इसलिए लागू करेंगे क्‍योंकि संसाधन उपलब्‍ध हैं।

अपने सहयोगियों पर आयकर विभाग की टीमों की छापेमारी को ‘राजनीति से प्रेरित’ बताते हुए कमलनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए एमपी सीएम ने कहा कि जब वे (पीएम) कहते हैं कि देश उनके नेतृत्‍व में सुरक्षित है तो यह ‘सच की त्रासदी’ है। उन्‍होंने पूछा, “सबसे ज्‍यादा आतंकी हमले…जब बीजेपी सत्‍ता में रही तो संसद और करगिल युद्ध जैसे हमले हुए। आप (बीजेपी) लोगों को कितना बेवकूफ बना सकते हैं?”

कमलनाथ ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने खोखले वादे कर देश के लोगों को धोखा दिया है। उन्‍होंने कहा, “मोदी जी को जवाब देना चाहिए। पहले 2014 में किए गए सभी वादों का हिसाब दें। ‘अच्‍छे दिन’ का क्‍या हुआ? 15 लाख रुपयों का क्‍या हुआ, किसानों से उन्‍होंने जो वादे किए थे, उनका क्‍या हुआ?” कमलनाथ ने दावा किया कि मध्‍य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस 22 से ज्‍यादा सीटें जीतेगी। 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी राज्‍य में केवल तीन सीटें हासिल कर सकी थी।

ये भी पढ़ें

‘अगर गुजरात ने बीजेपी को 26 सीटें नहीं दी तो 23 मई को टीवी पर चर्चा होगी’: PM मोदी

राहुल गांधी को अगला लोकसभा चुनाव पड़ोसी देश से लड़ना पड़ेगा: पीयूष गोयल

प्रज्ञा ठाकुर के बाबरी तोड़ने के दावे पर उठा सवाल, क्या तब उम्र थी बस 4 साल?

Related Posts