टोपी पहनने और ‘जय श्री राम’ न कहने पर अज्ञात लोगों ने कर दी मुस्लिम युवक की पिटाई

आलम सदर बाजार इलाके में स्थित मस्जिद में नमाज अदा कर वापस आ रहा था और उसने मदद के लिए गुहार लगाई. जिसके बाद कई सारे मुसलमान वहां उसकी मदद के लिए पहुंच गए. हमलावरों ने जब उन्हें आते देखा तो वे वहां से फरार हो गए.

गुरुग्राम: राजधानी दिल्ली से सटे गुरुग्राम में एक मुस्लिम युवक के टोपी पहनने और धार्मिक नारे नहीं लगाने पर चार अज्ञात लोगों ने यहां शनिवार रात उसकी पिटाई कर दी. 25 वर्षीय उस युवक का नाम मोहम्मद बरकत आलम है. आलम ने पुलिस में दाखिल एक शिकायत में आरोप लगाया है कि चार युवक सदर बाजार लेन में उससे मिले और उन्होंने उससे पारंपरिक टोपी हटाने के लिए कहा.

आलम बिहार का रहने वाला है और यहां जैकब पुरा इलाके में रहता है. आलम ने शिकायत में कहा, “आरोपियों ने मुझे धमकी दी और कहा कि इलाके में टोपी पहनने की अनुमति नहीं है. उन्होंने टोपी उतार ली और मुझे थप्पड़ मारा. उन्होंने भारत माता की जय का नारा लगाने के लिए कहा. उनके कहने पर मैंने नारा लगाया. उसके बाद उन्होंने मुझे जय श्रीराम बोलने के लिए भी मजबूर किया, जिसे मैंने इंकार कर दिया. उसके बाद आरोपियों ने एक लाठी लेकर निर्दयता के साथ मेरे पैर और पीठ पर पीटा.”

आलम सदर बाजार इलाके में स्थित मस्जिद में नमाज अदा कर वापस आ रहा था और उसने मदद के लिए गुहार लगाई. जिसके बाद कई सारे मुसलमान वहां उसकी मदद के लिए पहुंच गए. हमलावरों ने जब उन्हें आते देखा तो वे वहां से फरार हो गए.

गुरुग्राम शहर के एसीपी, राजीव कुमार ने कहा, “हमें घटना के बारे में एक शिकायत मिली है और उसके बाद शहर के संबंधित पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 153, 149, 323 और 506 के तहत एक एफआईआर दर्ज की गई है. हमने पीड़ित की चिकित्सा जांच भी कराई है,” उन्होंने कहा, “हम आरोपियों की पहचान के लिए इलाके में लगे सीसीटीवी के फुटेज भी खंगाल रहे हैं. उन्हें पकड़ने के प्रयास जारी हैं.”

ये भी पढ़ें- 2019 लोकसभा चुनाव में कितनी लोकसभा सीटों पर जीते मुस्लिम प्रत्‍याशी, जानें