Earthquake: हरियाणा के फरीदाबाद में भूकंप के झटकों से कांपी धरती, तीव्रता 2.1

राहत की बात यह है कि इस भूकंप से अब कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है. जानकारी के मुताबिक, यह भूकंप 2.1 तीव्रता का था. भूकंप का केंद्र फरीदाबाद से 28 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम (SSW) था. 
Earthquake in Haryana, Earthquake: हरियाणा के फरीदाबाद में भूकंप के झटकों से कांपी धरती, तीव्रता 2.1

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी (NCS) के मुताबिक आज (शनिवार) शाम 4 बजकर 48 मिनट पर हरियाणा के फरीदाबाद में भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए हैं. हालांकि, इसकी तीव्रता बहुत ज्यादा नहीं थी.

राहत की बात यह है कि इस भूकंप से अब कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है. जानकारी के मुताबिक, यह भूकंप 2.1 तीव्रता का था. भूकंप का केंद्र फरीदाबाद से 28 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम (SSW) था.

Earthquake in Haryana, Earthquake: हरियाणा के फरीदाबाद में भूकंप के झटकों से कांपी धरती, तीव्रता 2.1

आज सुबह ओडिशा में भी महसूस किए गए भूकंप के झटके

बता दें कि शनिवार सुबह ओडिशा में भी 7 बजकर 10 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र ओडिशा के बेरहमपुर को बताया गया था. इसकी तीव्रता 3.8 थी.

इस साल देश में भूकंप के काफी झटके लगे हैं. राजधानी दिल्ली में तो सिर्फ 4 महीने में भूकंप के 18 झटके लग चुके हैं. ओडिशा में आए इस भूंकप से पहले शुक्रवार को राजस्थान में भूकंप आया था. झटका जयपुर से 82 किलोमीटर दूर महसूस हुए थे. इसकी तीव्रता 3.1 मापी गई थी.

भूकंप के समय इन बातों का रखें ध्यान

  • भूकंप के बाद के झटकों से सावधान और सचेत रहें.
  • खिड़कयों, ऊंची इमारतों और दूसरे ढांचों से दूरी बनाए रखें.
  • अपनी जगह छोड़ने से पहले खुद को और परिवार वालों को देख लें कि कहीं चोट तो नहीं आई है. अगर किसी को सिर या गर्दन पर चोट आई हो, तो जगह छोड़ने से पहले पूरी सावधानी बरतें. अगर कोई शंका हो, तो अपनी जगह पर बने रहें.
  • अगर आप किसी बहुमंजिला इमारत में हैं, तो उतरने के लिए हमेशा सीढ़ियों का इस्तेमाल करें.
  • अगर आप कहीं फंसे हैं या सुनसान जगह पर हैं, तो अपनी ऊर्जा बचाएं रखें. मोबाइल और बैटरी से चलने वाले दूसरे उपकरण का कम से कम इस्तेमाल करें.
  • अगर आप फंसे हैं, तो खुद आवाज लगाने की जगह आसपास की चीजों से आवाज करने का प्रयास करें.
  • ऊंची इमारत में हैं तो, बाहरी दीवार से तुरंत दूर हट जाएं और अपना सिर बचाएं. अगर आपके पास हेल्मेट हो तो उसे पहन लें. लिफ्ट का इस्तेमाल न करें और खिड़कयों से दूर रहें.
  •  ड्राइविंग कर रहे हैं, तो गाड़ी को सड़क के किनारे रोक कर इंजन को बंद कर दें. फ्लाई ओवर, पॉवर लाइन और विज्ञापन बोर्ड से दूर रहें. कार से बाहर निकलकर उसके साइड में नीचे लेट जाएं. किसी भी स्थित में कार के अंदर न रहें.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts