तेजी से बढ़ रहा महिलाओं के प्रति साइबर क्राइम, NCW की शिकायतों में हुआ खुलासा

राष्ट्रीय महिला आयोग में आने वाली शिकायतों में इस बार रेप और एसिड अटैक की शिकायतों को अलग कैटेगरी में रखा गया है.

नई दिल्ली: देश में जिस तेजी से सोशल मीडिया यूजर्स बढ़े हैं, उतनी ही तेजी से महिलाओं के प्रति साइबर अपराध भी बढ़ा है. राष्ट्रीय महिला आयोग के पास आने वाली शिकायतों के आंकड़ों से यह खुलासा हुआ है.

राष्ट्रीय महिला आयोग के पास अप्रैल 2017 से मार्च 2018 में साइबर अपराध से संबंधित आने वाली शिकायतों की संख्या 339 थीं, जो अप्रैल 2018 से मार्च 2019 में बढ़कर 402 हो गई. इस तरह एक ही साल में साइबर अपराध की शिकायतों में 18% से अधिक की वृद्धि हुई है.

महिला आयोग के पास आने वाली स्टॉकिंग यानि महिलाओं पीछा करने की शिकायतों में कमी आई है. 2017-18 में स्टाकिंग की 149 शिकायतें दर्ज हुई थीं, इनकी संख्या 2018-19 में घटकर 142 रह गई.

वहीं महिला आयोग के पास आने वाली यौन उत्पीड़न, जिसमें कार्य क्षेत्र में यौन उत्पीड़न भी शामिल है, की शिकायतों की संख्या भी बढ़ी है. पिछले साल यह संख्या 666 थी, वहीं इस बार बढ़कर 750 हो गई है.

एसिड अटैक की 8 और रेप की 209 शिकायतें

राष्ट्रीय महिला आयोग में आने वाली शिकायतों में इस बार रेप और एसिड अटैक की शिकायतों को अलग कैटेगरी में रखा गया है. 2018-19 की रिपोर्ट के मुताबिक, 8 एसिड अटैक और 209 रेप/रेप की कोशिश के दर्ज किए गए हैं. पिछले साल महिलाओं के प्रति हिंसा में ही इसे जोड़ दिया गया था.

साल 2018-19 में टॉप 10 राज्य

1. यूपी  –   84,54, 11,287
2. दिल्ली  –   1,66,4 1,733
3. हरियाणा  –  90,1 1,181
4. राजस्थान  –  6,61 ,754
5. बिहार  –   5,59 ,733
6. एमपी  –  4,42 ,533
7. महाराष्ट्र  –  4,33 ,591
8. कर्नाटक  –  3,07 ,271
9. प. बंगाल   –  2,68, 323
10. उत्तराखंड –  2,53 ,267

(Visited 120 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *