नवजोत सिंह सिद्धू ने साधा कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना, कहा- सरकार हमेशा मिलकर चलती है

भाजपा से बागी नेता नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच मनमुटाव बढ़ता जा रहा है. सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा, "इतने मंत्रियों में से सिर्फ मुझे निशाने पर लिया.
नवजोत सिंह सिद्धू, नवजोत सिंह सिद्धू ने साधा कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना, कहा- सरकार हमेशा मिलकर चलती है

नई दिल्ली: नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधा है. कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा अपने मंत्रियों के साथ मीटिंग से ठीक पहले सिद्धू ने कैप्टन पर निशाना साधते हुए कहा कि इतने मंत्रियों में से सिर्फ मुझे निशाने पर लिया.

भाजपा से बागी नेता नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच मनमुटाव बढ़ता जा रहा है. सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा, “इतने मंत्रियों में से सिर्फ मुझे निशाने पर लिया. मैंने आज तक कैप्टन के बारे में कुछ नहीं कहा. सरकार हमेशा मिलकर चलती है.”

सिद्धू ने यहीं नहीं रुके. उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद अचानक मेरे मंत्रालय के ऊपर सवाल खड़े कर दिए गए. मेरे मंत्रालय ने अमृत योजना के जरिए शहरी विकास पर पैसा लगाया. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शहरी क्षेत्रों में कांग्रेस को कम वोट मिलने की वजह सिद्धू के मंत्रालय द्वारा शहरों में काम ना करना बताया था.

सिद्धू ने कहा कि बठिंडा में मेरे जाने के कारण हार का मार्जन कम हुआ. कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे भी चुनाव एक लाख से अधिक के अंतर से हारे थे.

पंजाब में कांग्रेस आठ सीटें मिली हैं. अकाली-बीजेपी गंठबंधन को चार और आप को सिर्फ सीटें सीट मिली हैं. पंजाब में 13 लोकसभा सीटें और राज्य में 117 विधानसभा क्षेत्र हैं.

सन 2014 के लोकसभा चुनावों में, बीजेपी- शिरोमणि अकाली दल राज्य में 6 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी. अकाली दल ने चार सीटें जीती थीं और बीजेपी ने दो संसदीय सीटें जीती थीं. आम आदमी पार्टी (AAP) ने राज्य में चार सीटों पर जीत हासिल करते हुए तीसरे विकल्प के रूप में शानदार शुरुआत की. कांग्रेस को सिर्फ तीन सीटों पर जीत मिल सकी थी.

Related Posts