कपिल शर्मा शो से हुई सिद्धू की छुट्टी, महंगा पड़ा पाकिस्तान का बचाव

Share this on WhatsAppनयी दिल्ली पुलवामा आतंकी हमले पर दिए गए विवादित बयान के बाद पंजाब के केन्द्रीय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को ‘द कपिल शर्मा शो’ से निकाल दिया गया है. खबर है कि अर्चना पूरन सिंह उनकी जगह इस शो का हिस्सा होंगी. सिद्धू के बयान के बाद से ही सोशल मीडिया पर […]

नयी दिल्ली

पुलवामा आतंकी हमले पर दिए गए विवादित बयान के बाद पंजाब के केन्द्रीय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को ‘द कपिल शर्मा शो’ से निकाल दिया गया है. खबर है कि अर्चना पूरन सिंह उनकी जगह इस शो का हिस्सा होंगी. सिद्धू के बयान के बाद से ही सोशल मीडिया पर उनको शो से हटाने की मांगे उठ रही थी.
पुलवामा आतंकी हमले में करीब 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए हैं. शुक्रवार को आतंकी हमले पर बयान देते हुए सिद्धू ने कहा था कि “इस (हमले) की निंदा सभी को करनी चाहिए। चंद लोगों के लिए आप पूरे राष्ट्र को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। हमले के दोषियों को सजा जरूर मिलनी चाहिए।”

अर्चना पूरन ने क्या कहा

‘द कपिल शर्मा शो’ में सिद्धू की जगह लेने की चर्चाओं के बीच अर्चना पूरन सिंह ने ANI से कहा कि “मैंने 9 और 13 फरवरी को कपिल शर्मा शो के दो एपिसोड के लिए शूटिंग की. इन दो एपिसोड में मैंने अस्थायी रूप से नवजोत सिंह सिद्धू की जगह काम किया क्योंकि वे कहीं व्यस्त थे.” अर्चना ने ये भी साफ़ किया कि सिद्धू की जगह लेने के लिए उनको अभी तक चैनल से कोई प्रस्ताव नहीं मिला है. खबरे आ रही हैं कि चैनल अर्चना को पूरी तरह से बोर्ड पर लेने के लिए तैयार है। थोड़ी-बहुत बातचीत के बाद चीजें फाइनल हो जाएंगी।


सिद्धू ने दिया था ये बयान

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले से देश गुस्से में है. वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने घटना को लेकर पाकिस्तान से बातचीत करने की सलाह दी है. सिद्धू ने कहा, “आतंकियों का कोई देश या धर्म नहीं होता है. गालियां देने से इसका समाधान नहीं होगा, आतंकवाद का हल ढूढंना ही होगा. लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है.” उन्होंने कहा कि जहां-जहां जंगें होती है वहां डायलॉग भी साथ-साथ चलता है. आतंकवाद का स्थायी समाधान खोजा जाना चाहिए.
सिद्धू ने इस आतंकी हमले की निंदा की. उन्होंने कहा कि हमल के दोषियों को सजा तो मिलनी चाहिए लेकिन साथ ही साथ बातचीत, अतंरराष्ट्रीय समुदाय के दबाव का इस्तेमाल कर इसका समाधान निकाला जाना चाहिए. सिद्धू ने कहा, “गालियां देने से ये ठीक नहीं होगा… कब तक हमारे जवान शहीद होते रहेंगे. कब तक ये खून खराबा चलता रहेगा.”

ट्विटर यूजर्स ने बनाया था दबाव

सिद्धू के बयान से ट्विटर यूजर्स में बहुत नाराजगी है. कुछ यूजरों ने सिद्धू को शो से हटाने की मांग की थी, तो कुछ का कहना था कि सोनी टीवी का ही बहिष्कार कर दिया जाए. कई यूजर्स ने सोनी टीवी को अपने टीवी प्लान से हटाने के स्क्रीन शॉट भी शेयर किए थे. सिद्धू के बयान से ट्विटर यूजर्स के निशाने पर सोनी टीवी और कपिल शर्मा भी आ गए थे. इसके लिए यूजर्स #BoycottSidhu, #BoycottKapilSharmaShow और #BoycottSonyTV जैसे हैशटैग का इस्तेमाल कर रहे थे. इसी के बाद चैनेल ने सिद्धू पर कार्रवाई की.


पुलवामा आतंकी हमला

गुरुवार को पुलवामा में एक फिदायीन हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए. एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से भरी कार से CRPF जवानों को ले जा रही बस को टक्कर मार दी. साल 2016 में उरी में हुए हमले के बाद यह सबसे बड़ा आतंकवादी हमला है. इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली.