इस्‍तीफे के बाद से ही होल्‍ड पर नवजोत सिद्धू की सैलरी, कागजों पर अब भी पंजाब के कैबिनेट मंत्री

नवजोत सिंह सिद्धू ने 20 जुलाई 2019 को इस्‍तीफा दिया था. उन्‍हें सैलरी और भत्‍ते नहीं दिए गए हैं, ना ही उन्‍होंने इसकी मांग की है.

अमृतसर से विधायक नवजोत सिंह सिद्धू अब भी पंजाब सरकार में मंत्री हैं. अधिकारी कहते हैं कि उन्‍हें सिद्धू के इस्‍तीफे की सूचना विधानसभा सचिवालय से नहीं मिली है. सिद्धू ने 20 जुलाई को इस्‍तीफा दिया था. उन्‍हें सैलरी और भत्‍ते भी नहीं दिए गए हैं, ना ही उन्‍होंने इसकी मांग की है. मंत्री पद से इस्‍तीफा देने के बाद सिद्धू विधानसभा भी नहीं गए.

रिपोर्ट के मुताबिक, सिद्धू को 20 जुलाई तक बतौर कैबिनेट मंत्री सैलरी और भत्‍ते दिए जाने थे. विधानसभा सचिवालय राज्‍य सरकार के नोटिफिकेशन का इंतजार कर रहा है. बतौर विधायक, उनकी फाइनल सैलरी और भत्‍ते नहीं तैयार हो सके हैं.

नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह के साथ रिश्‍ते ठीक नहीं रहे. चर्चा थी कि बीजेपी छोड़कर आए सिद्धू कांग्रेस सरकार में डिप्‍टी सीएम का पद चाहते थे. अमरिंदर इसके लिए राजी नहीं थे. नाराज सिद्धू एक दिन भी मंत्रालय नहीं गए, फिर इस्‍तीफा दे दिया.

अमरिंदर सिंह ने कहा था कि अगर सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहते तो वे इस बारे में कुछ नहीं कर सकते.

ये भी पढ़ें

नवजोत सिंह सिद्धू की बेटी राबिया का ग्लैमरस लुक हो रहा वायरल, देखें तस्वीरें

रूपा गांगुली ने कहा ‘बुर्के में न भागती तो खान टाइगर की बेगम बन जाती’