Pulwama Attack मामले में NIA ने की सातवीं गिरफ्तारी, पकड़ा गया आतंकियों को घर-फोन दिलाने वाला शख्स

जांच के दौरान पता चला है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले (Pulwama Attack) में शामिल जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकियों को बिलाल अहमद ने ही अपने घर में पनाह दी थी. आतंकी हमले की साजिश बिलाल के घर में ही रची गई थी.
seventh arresting in Pulwama attack case, Pulwama Attack मामले में NIA ने की सातवीं गिरफ्तारी, पकड़ा गया आतंकियों को घर-फोन दिलाने वाला शख्स

पुलवामा हमले (Pulwama Attack) मामले में केंद्रीय जंच एजेंसी (NIA) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. NIA ने पुलवामा अटैक मामले में सातवें आतंकी की गिरफ्तारी की है. इस आतंकी की पहचान पुलवामा के हाजिबल, काकोपोरा (Hajibal, Kakapora) के रहने वाले बिलाल अहमद कुचेय (Bilal Ahmed Kuchey) के रूप में हुई है.

आतंकियों को दी अपने घर में पनाह

जांच के दौरान पता चला है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शामिल जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकियों को बिलाल अहमद ने ही अपने घर में पनाह दी थी. आतंकी हमले की साजिश बिलाल के घर में ही रची गई थी. इतना ही नहीं, हमले को अंजाम देने वाले सभी आतंकियों को बिलाल ने ही सेफ हाउस मुहैया करवाया था.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

आतंकियों को बिलाल ने ही दिलाए फोन

जांच एजेंसी के मुताबिक, पुलवामा अटैक के पहले और बाद में जिन मोबाइल फोन के जरिए ये आतंकी पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे अपने आकाओं के संपर्क में थे, वो फ़ोन उन्हें दिलवाने में बिलाल अहमद ने ही उनकी मदद की थी. आतंकी बिलाल अहमद पुलवामा में ही अपनी आरा-मिल चलाता है.

10 दिन की रिमांड पर बिलाल

खास बात ये है कि फिदायीन आदिल अहमद डार (Adil Ahmad Dar) का हमले का जो वीडियो वायरल हुआ था, वो वीडियो क्लिप भी उसी मोबाइल फ़ोन से बनाया गया था जो पकड़े गए आतंकी बिलाल अहमद ने उन्हें दिलवाया था. आतंकी बिलाल अहमद कुचेय को जांच एजेंसी NIA ने जम्मू.की स्पेशल कोर्ट में पेश किया जहां से उसे 10 की रिमांड पर भेज दिया गया है.

क्या था पुलवामा अटैक?

14 फरवरी 2019 में पुलवामा में CRPF के काफिले पर फिदायीन अटैक हुआ था, इस हमले को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने अंजाम दिया था, जिसमें CRPF के 40 जवान शाहिद हुए थे.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts