Nirbhaya Case: ये डेथ वॉरंट भी नहीं है फाइनल, जानें दोषियों के पास अब क्या है आखिरी विकल्प?

निर्भया मामले में चारों दोषियों में से एक दोषी पवन के पास अभी भी विकल्प बाकी हैं. पवन ने अभी तक न ही सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दायर की है और न ही राष्ट्रपति के सामने दया याचिका लगाई है.
Nirbhaya Case This death warrant is also not final, Nirbhaya Case: ये डेथ वॉरंट भी नहीं है फाइनल, जानें दोषियों के पास अब क्या है आखिरी विकल्प?

निर्भया गैंगरेप मामले में सोमवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने नया डेथ वॉरंट जारी कर दिया है. अब सभी दोषियों को 3 मार्च को फांसी दी जाएगी लेकिन कानूनी तौर पर देखा जाए तो इस नए वॉरंट को आखिरी या फाइनल डेथ वॉरंट कहना पूरी तरह सही नहीं होगा.

निर्भया मामले में चारों दोषियों में से एक दोषी पवन के पास अभी भी विकल्प बाकी हैं. पवन ने अभी तक न ही सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दायर की है और न ही राष्ट्रपति के सामने दया याचिका लगाई है. इसलिए अभी इस डेथ वॉरंट को फाइनल डेथ वॉरंट नहीं कहा जा सकता है.

ऐसा इसलिए क्योंकि इस केस में सभी चारों दोषियों को एक साथ फांसी दी जानी है. अब अगर पवन की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन या राष्ट्रपति के सामने दया याचिका लगाई जाती है, तो जो डेथ वॉरंट अभी जारी किया गया है, उसे एक बार फिर से जारी करना पड़ेगा.

अब पवन की तरफ से दाखिल होगी क्यूरेटिव पिटीशन

सोमवार को सुनवाई के दौरान पवन के वकील रवि काजी ने कोर्ट को बताया कि अब हम सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन और राष्ट्रपति के सामने दया याचिका दाखिल करना चाहते हैं. वकील ने कहा, “मैं आज पवन से जेल में मिला और पवन से पूछा कि आपको दिल्ली हाईकोर्ट ने जो 7 दिन का समय दिया था उसमें लीगल रेमेडीज का इस्तेमाल क्यों नहीं किया?”

इस पर पवन ने जवाब दिया, “पहले मेरे पास वकील था, बाद में नहीं रहा. लेकिन अब मैं सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन और राष्ट्रपति के समक्ष दया याचिका दाखिल करना चाहता हूं.”

वहीं दोषी विनय और अक्षय के वकील एपी सिंह ने कोर्ट में कहा कि अभी हम अक्षय की दया याचिका फाइल कर रहे हैं. पुरानी दया याचिका कंप्लीट नहीं थी उसमें अक्षय के हस्ताक्षर नहीं थे. अब हम पूरे कागजात के साथ अक्षय की दया याचिका दायर करना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें:

Nirbhaya Case: ‘जेल में भूख हड़ताल पर है दोषी विनय’, सुनवाई के दौरान वकील ने बताया

पूर्व जज ने दाखिल की निर्भया के चारों दोषियों के अंगदान की याचिका

Related Posts