Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम
Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम

फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम

निर्भया के दरिंदो का डेथ वारंट 1 फरवरी 2020 की सुबह 6 बजे का है. हालांकि अभी भी चारों दोषी फांसी को टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच के इस्तेमाल कर रहे हैं.
Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम

निर्भया गैंगरेप केस में मौत की सजा पाए दोषियों को तिहाड़ जेल में सोमवार को दो बार डमी फांसी दी गई. इस तरह अब तक चौथी बार डमी फांसी दी जा चुकी है. जेल मैन्युअल के मुताबिक ये रूटीन प्रैक्टिस है, जो किसी कैदी को फांसी देने से पहले की जाती है. ये डमी फांसी जेल के फांसी घर में दी गई. एक बार फिर पुराना और नया तैयार हुआ फट्टा चेक किया गया.

निर्भया के दरिंदो का डेथ वारंट 1 फरवरी 2020 की सुबह 6 बजे का है. हालांकि अभी भी चारों दोषी फांसी को टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच के इस्तेमाल कर रहे हैं. लेकिन, तिहाड़ जेल सूत्रों का कहना है कि नए डेथ वारंट के हिसाब से उन्हें अपनी तैयारी पूरी करनी है, ताकि 1 फरवरी को फांसी देते वक्त कोई गलती न हो.

पत्नी और भतीजे से दोषी अक्षय की मुलाकात

इसी कड़ी में आज एक बार फिर डमी फांसी देकर रस्सी चेक की गई. तिहाड़ जेल प्रशासन अभी तक 4 बार डमी फांसी देकर प्रैक्टिस कर चुका है. वहीं, दूसरी तरफ सोमवार सुबह निर्भया के एक दोषी अक्षय की मुलाकात उसकी पत्नी और भतीजे से करवाई गई.

मैन्युअल के हिसाब से रूटीन प्रैक्टिस

हालांकि, इस पर तिहाड़ प्रशासन का कहना है कि ये भी जेल मैन्युअल के हिसाब से हफ्ते में 2 मुलाकात वाली रूटीन प्रैक्टिस ही थी. कुछ दिन पहले तिहाड़ प्रशासन ने निर्भया के चारों दोषियों मुकेश, अक्षय, विनय और पवन से उनकी विल ट्रांसफर करने के बारे में पूछा था लेकिन अभी तक चारों में से किसी का कोई जवाब नहीं आया है.

मौत का डर चेहरे पर

हालांकि, नए वारंट के बाद से चारों दोषी डरे हुए हैं. मौत का डर न सिर्फ उनके चेहरे पर दिख रहा है बल्कि उनके बर्ताव से भी झलकने लगा है. जिसके चलते चारों की खुराक पहले से कम हो चुकी है. साथ ही, 2-2 गार्ड चारों के अलग-अलग सेल के बाहर शिफ्ट के मुताबिक 24 घंटे नजर बनाए हुए हैं.

ये भी पढ़ें-

हरियाणा : दुष्कर्म के आरोपी को फांसी की सजा, रेप के बाद मासूम की कर दी थी हत्या

MP दलित हत्या: BJP के 2 विधायकों ने अर्थी छीनने की कोशिश की, मृतक के भाई का आरोप

Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम
Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम

Related Posts

Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम
Nirbhaya Case Accused, फांसी टालने के लिए कानूनी दांव-पेंच चल रहे निर्भया के दरिंदे, मौत के डर से खुराक भी हुई कम