निर्भया गैंगरेप केस: तिहाड़ जेल फांसी के लिए तैयार, आखिरी मुलाकात पर लिखा चारों दोषियों को लेटर

मुकेश और पवन को लिखा गया है कि आप एक फरवरी के लिए जारी पुराने डेथ वारंट से पहले अपने परिवार से आखिरी मुलाकात कर चुके हैं. वहीं अक्षय और विनय से पूछा गया है कि आप आखिरी मुलाकात कब करना चाहते हैं, ये बता दें.
Tihar administration writes letter to the culprits, निर्भया गैंगरेप केस: तिहाड़ जेल फांसी के लिए तैयार, आखिरी मुलाकात पर लिखा चारों दोषियों को लेटर


तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक निर्भया गैंगरेप केस के सभी चार दोषियों अक्षय, पवन, मुकेश, विनय को परिवार से आखिरी मुलाकात के लिए लेटर लिखा है. मुकेश और पवन को लिखा गया है कि आप एक फरवरी के लिए जारी पुराने डेथ वारंट से पहले अपने परिवार से आखिरी मुलाकात कर चुके हैं. वहीं अक्षय और विनय से पूछा गया है कि आप परिवार से आखिरी मुलाकात कब करना चाहते हैं, ये बता दें.

जेल प्रशासन की ओर से चारों दोषियों को ही लेटर लिखा गया है. फिलहाल इनके परिवार को लेटर नहीं लिखा गया है. इसके साथ तिहाड़ प्रशासन ने यूपी जेल को भी लेटर लिख दिया है कि तीन मार्च फांसी की तारीख से दो दिन पहले जल्लाद को तिहाड़ भेज दिया जाए.

दोबारा न अपना सके कोई पैंतरा

विनय जिसने हाल में खुद को चोट पहुंचाने की कोशिश की थी उसपर ज्यादा नजर रखी जा रही है. ताकि वह खुद को दोबारा नुकसान पहुंचाने की कोशिश न करे. इनके सेल के अंदर-बाहर हर जगह दो-दो सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. सभी दोषी खाना खा रहे हैं, हालांकि सबकी खुराक पहले से कम हुई है. सबसे ज्यादा विनय के बर्ताव में फर्क आया है.

सिर्फ पवन की आखिरी लीगल रेमेडी बची

सिर्फ पवन की आखिरी लीगल रेमेडी अभी तक बची है. उसने अब तक न तो क्यूरेटिव और न ही मर्सी पिटिशन लगाई है. हालांकि तीन मार्च फांसी की तारीख में अभी कुछ समय है. सजा को लटकाने के लिए पवन क्यूरेटिव और मर्सी की रेमेडी का इस्तेमाल कर सकता है.

नॉर्मल कैदियों की हफ्ते में दो बार परिवार से जो मुलाकात होती है, वह हो रही है. बस मुकेश और पवन को बताया गया है आपकी आखिरी मुलाकात हो चुकी है. वहीं विनय और अक्षय से कहा गया है कब आखिरी मुलाकात करनी है, यह बता दे.

ये भी पढ़ें-

वीडियो कॉल पर सेक्‍स की बात करते थे बिशप फ्रैंको मुलक्‍कल, एक और नन ने लगाया आरोप

निर्भया केस: फांसी टालने को विनय के वकील का नया पैंतरा, बताया मानसिक बीमारी से ग्रस्त

Related Posts