सरकार जहां हाथ लगाती है वहां सत्यानाश हो जाता है, नागपुर में बोले नितिन गडकरी

गडकरी शनिवार को मदर डेयरी के कार्यक्रम बोल रहे थे. विदेश में जब हम जाते हैं तब कहा जाता है कि हमारे देश में सबसे ज्यादा किसान आत्महत्याएं होती हैं तो हमें शर्म आती है.

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के एक बयान की हर तरफ चर्चा हो रही है. नागपुर में एक कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने कहा कि मैं कभी किसी प्रोजेक्ट में सरकार से मदद नहीं लेता, क्योंकि जहां सरकार हाथ लगाती है वहां सत्यानाश होता है. इसी कार्यक्रम में बोलते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि विदर्भ इलाके में किसानों की आत्महत्याएं होती है, यह हमारे लिए शर्म की बात है.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी मोदी सरकार पार्ट-2 में सड़क एवं परिवहन मंत्री हैं और मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में इनके विभाग का काम बेहद सराहा गया था.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि जिस काम मे सरकार हाथ लगाती है उसका सत्यानाश होता है. इसलिये मैं सरकार पर डिपेंड नहीं रहता. गडकरी शनिवार को मदर डेयरी के कार्यक्रम बोल रहे थे. विदेश में जब हम जाते हैं तब कहा जाता है कि हमारे देश में सबसे ज्यादा किसान आत्महत्याएं होती हैं तो हमें शर्म आती है.

उन्होंने कहा कि मराठी में एक एक कहावत है तूच तुझ्या जीवनाचा शिल्पकार. इस वाक्य के ऊपर मैं चलता हूं. मैं सरकार पर भरोसा नहीं करता. किसी भी प्रोजेक्ट के लिए सरकार से पैसा नहीं मांगता.

इससे पहले गडकरी के एक बयान ने सियासी घमासान बढ़ा दिया था. दिल्ली के विज्ञान भवन में आईबी के एक कार्यक्रम में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था, “उनमें कमी नहीं है… मैं पार्टी का अध्यक्ष हूं… अगर मेरे एमएलए और एमपी अच्छा काम नहीं करते तो मैं ज़िम्मेदार हूं… मैंने उन्हें अच्छा बनाने के लिए क्या किया?”