नीतीश कुमार बोले- बिहार में एकदम लागू नहीं होगा NRC

पटना में एक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद पत्रकारों द्वारा एनआरसी के संदर्भ में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, "यहां क्यों लागू होगा एनआरसी. एकदम लागू नहीं होगा."

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को यहां कहा कि राज्य में एनआरसी लागू नहीं होगा. नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) का समर्थन कर रहे जनता दल (यूनाइटेड) के प्रमुख नीतीश कुमार ने पटना में पत्रकारों से कहा कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा.

पटना में एक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद पत्रकारों द्वारा एनआरसी के संदर्भ में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, “यहां क्यों लागू होगा एनआरसी. एकदम लागू नहीं होगा.”

इससे पहले देशभर में नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शनों पर नीतीश कुमार ने गुरुवार को कहा था कि उनके रहते अल्पसंख्यकों की उपेक्षा नहीं होने दी जाएगी.

नीतीश ने गया में कहा था, “हम गारंटी देते हैं कि हम लोगों के रहते हुए अलपंसख्क समाज की किसी प्रकार की उपेक्षा नहीं होगी. उनका कोई नुकसान नहीं होगा. हम लोगों ने समाज के हर तबके के लिए काम किया है. अल्संख्यकों के लिए बहुत काम हुआ है.”

पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर भी सीएए और एनआसी का विरोध कर चुके हैं. इससे पहले ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने भी राज्‍य में एनआरसी लागू करने से इनकार कर दिया था.

नागरिक संशोधन विधेयक 2019 के लोकसभा और राज्यसभा से पारित होने के बाद गुरुवार को राष्ट्रपति द्वारा स्वीकृति मिलने के साथ ही अब यह कानून बन चुका है. इसी के मद्देनजर भद्रक, बालासोर और जाजपुर जिलों के मुस्लिम प्रतिनिधिमंडल ने पटनायक से मुलाकात के बाद कहा कि मुख्यमंत्री ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि राज्य सरकार एनआरसी को लागू नहीं करेगी.

ओडिशा के सीएम के अलावा पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी भी एनआरसी लागू नहीं करने की बात कह चुकी हैं.