पी चिदंबरम जेल में मनाएंगे जन्मदिन, बेटे कार्ति ने खत लिखकर दी बधाई

दिल्ली राउज एवेन्यू कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था जिसके तहत वह 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में रहेंगे.

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम का आज 74वां जन्मदिन है. उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने जन्मदिन पर उन्हें पत्र लिखकर जन्मदिन की शुभकामनाएं दी है. हालांकि इस चिट्ठी के ज़रिए कार्ति चिदंबरम ने मोदी सरकार पर हमला किया है. ज़ाहिर है पी. चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग केस में तिहाड़ में बंद हैं. दिल्ली राउज एवेन्यू कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा था जिसके तहत वह 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में रहेंगे.

पत्र पढ़कर लगता है कि कार्ति इसी बात को लेकर पीएम मोदी पर नाराज़गी ज़ाहिर कर रहे हैं. पत्र की शुरुआत में ही कार्ति चिदंबरम ने ’56 इंच के सीने’ को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने लिखा, ‘आप आज 74 साल के हो गए हैं और कोई 56!!! आपको रोक नहीं सकता. आज जबकि देश में हर छोटी चीज़ को लेकर बड़ा हंगामा किया जाता है, जबकि आपने कभी भी ग्रांड सेलिब्रेशन में यक़ीन ही नहीं किया. इस बार आपका जन्मदिन पहले की तरह नहीं है क्योंकि आप हमारे साथ नहीं हैं. आपकी कमी हमारे दिल में महसूस हो रही है. मैं चाहूंगा की आप जल्द घर वापस आएं और साथ में केक काटें. हालांकि आपके 74 साल के होने की तुलना 100 दिनों से नहीं की जा सकती है.’

karti writes letter to P chidambram, पी चिदंबरम जेल में मनाएंगे जन्मदिन, बेटे कार्ति ने खत लिखकर दी बधाई

karti writes letter to P chidambram, पी चिदंबरम जेल में मनाएंगे जन्मदिन, बेटे कार्ति ने खत लिखकर दी बधाई

इस चिट्ठी में उन्होंने मीडिया की भी बखिया उधेड़ दी है. पत्र में इसरो के चंद्रयान 2 की लैंडिंग का भी जिक्र है. कार्ति ने पत्र में पीएम मोदी के इसरो प्रमुख के सिवन को गले लगाने पर भी चुटकी ली. उन्होंने पत्र में इसे ड्रामा बताया. साथ ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री के पीयूष गोयल के आइंस्टीन वाले बयान पर भी चुटकी ली. दरअसल हाल ही में पीयूष गोयल ने ग्रैविटी (गुरुत्वाकर्षण) की खोज का जिक्र करते समय अल्बर्ट आइंस्टीन का नाम ले लिया था.

आर्थिक मंदी और कश्मीर मुद्दे को लेकर भी कार्ति चिदंबरम ने मोदी सरकार पर हमला बोला है. जीडीपी ग्रोथ 5 फीसदी पर आने को लेकर उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर भी निशाना साधा. इसके अलावा उन्होंने पत्र में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) की आलोचना की. पत्र में कार्ति चिदंबरम ने कश्मीर को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला.