क्या 21 दिन से ज्यादा बढ़ेगा लॉकडाउन? पढ़ें इस पर केंद्र सरकार का जवाब

COVID-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 25 मार्च से 21 दिन के कंप्लीट लॉकडाउन का ऐलान किया था. इसे आगे बढ़ाने पर सरकार की क्या योजना है, पढ़िए.
Government on 21-day lockdown, क्या 21 दिन से ज्यादा बढ़ेगा लॉकडाउन? पढ़ें इस पर केंद्र सरकार का जवाब

CoronaVirus के खतरे से निपटने के लिए किए गए लॉकडाउन को 21 दिन से आगे बढ़ाया जा सकता है, सरकार ने इस तरह की रिपोर्ट्स को खारिज किया है. सोमवार को प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) ने ट्वीट करके कहा –

‘ऐसी अफवाहें और मीडिया रिपोर्ट्स देखने को मिल रही हैं कि सरकार 21 दिन का लॉकडाउन पूरा होने के बाद इसे बढ़ाने वाली है. कैबिनेट सचिव ने ऐसी रिपोर्ट्स को खारिज किया है और कहा है कि ये पूरी तरह से निराधार हैं.’

कैबिनेट सचिव राजीव गाबा (Rajiv Gauba) ने एक न्यूज एजेंसी को बताया ‘मैं ऐसी रिपोर्ट्स देखकर हैरान हूं. लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की कोई योजना नहीं है.’

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

COVID-19 के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 25 मार्च से 21 दिन के कंप्लीट लॉकडाउन का ऐलान किया था. उसके बाद से विभिन्न संस्थाओं, नेताओं और सेलिब्रिटीज ने इस लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने की गुजारिश की है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में CoronaVirus महामारी से पीड़ितों की संख्या 1024 तक जा चुकी है. इनमें से 96 लोग ऐसे भी हैं जो इस महामारी (Pandemic) की चपेट में आने के बाद अब ठीक हो चुके हैं और 27 की मौत हो चुकी है. Covidindia.org के मुताबिक अभी तक कुल 1139 केस सामने आए हैं.

भारत के विभिन्न नर्स यूनियन (Nurse Union) साल 2020 को ‘इयर ऑफ नर्स एंड मिडवाइफ’ (Year of Nurse And Midwife) के रूप में मनाने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन फिलहाल वह सभी अपने जीवन के सबसे कठिन समय का सामना कर रहे हैं. अभी देश में 12 लाख नर्स को कोविड-19 (COVID-19) के प्रसार को रोकने के लिए काम करना पड़ रहा है.

महामारी से निपटने के लिए भारतीय रेलवे ने मौजूदा ट्रेनों के अलग-अलग डिब्बों के डिब्बों को पेश किया है जिन्हें घर के रोगियों के लिए संशोधित किया गया है. गुवाहाटी के कामाख्या जंक्शन रेलवे स्टेशन ने भी ऐसे कोच तैयार किए हैं.

कोचों को साफ कर दिया गया है और घर के रोगियों को सभी आवश्यक सुविधाओं से सुसज्जित किया गया है. गुवाहाटी के कामाख्या जंक्शन रेलवे स्टेशन ने आइसोलेशन कोच तैयार किए हैं. मौजूदा ट्रेनों के डिब्बों को संशोधित किया गया है, जो COVID-19 रोगियों के लिए संशोधित किए गए हैं.

इन ट्रेन कोचों में सिर्फ मरीजों के लिए वार्ड ही नहीं होंगे बल्कि परामर्श कक्ष, मेडिकल स्टोर, आईसीयू और पैंट्री की सुविधाओं से भी लैस किया जाएगा. पंजाब की कपूरथला रेल कोच फैक्ट्री भी एलएचबी डिब्बों को आगे की तैयारी के लिए अस्पताल के रूप में बदलने जा रही है.

Related Posts