• Home  »  अभी अभीटॉपदेश   »   NSG का 36वां स्थापना दिवस: पीएम मोदी-अमित शाह ने दी बधाई, जानिए ब्लैक कैट्स के बारे में प्रमुख बातें

NSG का 36वां स्थापना दिवस: पीएम मोदी-अमित शाह ने दी बधाई, जानिए ब्लैक कैट्स के बारे में प्रमुख बातें

नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (NSG) या ब्लेक कमांडो इन नामों से आप भी परिचित होंगे. आज ही के दिन यानी 15 अक्टूबर 1984 को इस फोर्स का गठन हुआ था. तब से 15 अक्टूबर को NSG राइजिंग डे (NSG Raising Day) के नाम से मनाया जाता है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:16 am, Fri, 16 October 20
National Security Guard
नेशनल सिक्योरिटी गार्ड का 36वां स्थापना दिवस

नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (NSG) या ब्लेक कमांडो इन नामों से आप भी परिचित होंगे. आज ही के दिन यानी 15 अक्टूबर 1984 को इस फोर्स का गठन हुआ था. तब से 15 अक्टूबर को NSG राइजिंग डे (NSG Raising Day) के नाम से मनाया जाता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत बाकी राजनेताओं ने भी फोर्स को राइजिंग डे की बधाई दी है और उनके साहस की प्रशंसा की है.

एनएसजी राइजिंग डे (NSG Raising Day) पर पीएम मोदी ने लिखा, ‘राइजिंग डे पर नैशनल सिक्यॉरिटी गार्ड्स को और उनके परिवार को बधाई. एनएसजी भारत की सुरक्षा में एक जरूरी रोल निभाता है. इनका काम बेहद साहस वाला होता है. भारत को एनएसजी पर गर्व है जो देश को सकुशल और सुरक्षित रखने में अहम रोल अदा करते हैं.’

वहीं अमित शाह ने कहा कि एनएसजी की अपूर्व क्षमता दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित फोर्स में से एक बनाती है. एनएसजी के जवानों ने अपने साहस, वीरता और लगन से भारत की हमेशा रक्षा की है.

एनएसजी के बारे में प्रमुख बातें

  • भारत को NSG जैसी फोर्स की जरूरत 1984 के ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद महसूस हुई थी. इस ऑपरेशन के दौरान सरकार को लगा था कि अगर उनके पास कोई स्पेशल फोर्स होती तो वह इस मामले को आसानी से सुलझा लेती.
  • राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) देश के किसी भी हिस्से में आतंकी गतिविधियों से निपटने के लिए बनाया गया एक विशेष बल है. माना जाता है यह फोर्स अपने किसीऑपरेशन के दौरान गलती नहीं करती.
  • NSG का गठन जो है वह केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों, भारतीय सेना और राज्य पुलिस बलों के अधिकारियों/कर्मियों की मदद से किया जाता है. NSG के जवान काले कपड़े पहनते हैं. इस वजह से उन्हें ‘ब्लैक कैट’ भी कहा जाता है.
  • NSG ने कई मुख्य ऑपरेशन किए हैं. इसमें ब्लैक थंडर, अश्वमेध, वज्र शक्ति, ब्लैक टारनेडो आदि शामिल हैं. 26/11 के मुंबई हमले के दौरान ताज होटल में बंधक बचाव मिशन भी NSG द्वारा ही किया गया था.
  • NSG के कार्यों की बात करें तो इसमें भूमि, समुद्र और वायु पर हवाई और पोत अपहरण को रोकना , बमों को ध्वस्त करना, कहीं ब्लास्ट होने के बाद वहां की गहन जांच करना, आतंकियों द्वारा बंधक बनाये गये लोगों को सुरक्षित छुड़ाना, वीआईपी सुरक्षा आदि शामिल हैं.

पढ़ें – Trending Video : भारतीय यूट्यूबर्स का ‘The Lockdown Rap’ हो रहा वायरल