ODD – EVEN प्लान होगा 4 नवंबर से लागू , केजरीवाल ने दिया पराली एक्शन प्लान

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 15 नवंबर को ODD - EVEN ट्रैफिक प्लान खत्म होने के बाद पराली एक्शन प्लान लागू होगा.

दिल्ली में जानलेवा वायु प्रदूषण से बचने के लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ( Arvind Kejriwal ) ने कई घोषणाएं की है. ODD – EVEN प्लान इमरजेंसी योजना के तहत लागू होगा. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 4 नवंबर से 15 नवंबर के बीच दिल्ली में इसे लागू किया जाएगा.

केजरीवाल ( Arvind Kejriwal )ने पराली एक्शन प्लान को भी सामने रखा. अक्टूबर और नवंबर में दिल्ली के अलावा हरियाणा और राजस्थान में धान की ठूंठ जलाई जाती है. इससे दिल्ली और एनसीआर के ऊपर धुएं का गुबार जमा हो जाता है.

पार्टिकुलेट मैटर यानी PM 2.5 की मात्रा तब काफी बढ़ जाती है. इससे आम लोगों को कई तरह की तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है. पिछले कई वर्षों से पराली को जलाना एक बड़ी समस्या है. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 15 नवंबर को ODD – EVEN ट्रैफिक प्लान खत्म होने के बाद पराली एक्शन प्लान लागू होगा.

Arvind Kejriwal ने कहा – पिछले हफ्ते मैंने खुशखबरी दी थी कि दिल्ली में पॉल्यूशन कम हो गया है. यह करीब 25 फीसदी कम हो गया है. पूरे देश में दिल्ली इकलौता शहर है, जहां यह कम हुआ है. हमें सतर्क रहना पड़ेगा की यह बढ़ ना पाए.

पराली एक्शन प्लान

नवंबर के महीने में पराली की वजह से पॉल्यूशन बढ़ जाता है. पड़ोसी राज्य अपने स्तर पर काम कर रहे हैं, लेकिन हम हाथ पर हाथ रखकर नहीं बैठ सकते. इसके लिए हमने जनता से सुझाव मांगे थे और कई आरडब्ल्यूए से बात की. 1200 से ज्यादा सुझाव मिले हैं, जिन पर एक एक्शन प्लान बनाया जा रहा है.

डस्ट पर काबू पाने के लिए MCD के साथ मिलकर water sprinkling की जायेगी. छोटी दिवाली वाले दिन दिल्ली सरकार बहुत बढ़ा लेज़र शो करेगी. हमें उम्मीद है कि ये देखने के बाद लोग पटाखे नहीं चलाएंगे.

पूरी दिल्ली के बस स्टैंड को बदला जाएगा और उनका मॉर्डनाइजेशन किया जाएगा. इसके जरिये लोगों को पता लग सकेगा कि कौन सी बस कब आएगी. जैसे अभी मेट्रो में आपको पता चलता है. नई बसें आने से और रूट में बदलाव करने के बाद नए बदलाव देखने को मिलेंगे.

नये मोटर व्हीकल एक्ट से काफी सुधार आया है. लोग नियमों का पालन कर रहे है. हम इस पर नजर रखे हुये हैं. हम देख रहे हैं कि अगर आगे चलकर लोगों को इसकी वजह से ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ रही है तो हम ऐसा कोई क्लॉज़ निकालने की कोशिश करेंगे जिससे लोगों की परेशानी को कम किया जा सके. हम सब लोग चाहते हैं कि ट्रैफिक सुधरे. एक्सीडेंट कम हों और दिल्ली में यातायात व्यवस्थित हो जाए.