पुरी में भारी सुरक्षाबल के बीच भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा शुरू, राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने दी बधाई

जगन्नाथ रथ यात्रा (Jagannath Rath Yatra) के चलते पुरी जिले में सोमवार रात 9 बजे से बुधवार दोपहर 2 बजे तक कंप्लीट शटडाउन रहेगा. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 500 से अधिक लोगों को रथ खींचने की अनुमति नहीं है.
Jagannath Rath Yatra, पुरी में भारी सुरक्षाबल के बीच भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा शुरू, राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने दी बधाई

ओडिशा (Odhisa) के पुरी में आज भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा (Jagannath Rath Yatra) निकाली जा रही है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) को ध्यान में रखकर शर्तों के साथ यात्रा निकालने के लिए मंजूर दी है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 500 से अधिक लोगों को रथ खींचने की अनुमति नहीं है.

 

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

रथ यात्रा के चलते पुरी जिले में सोमवार रात 9 बजे से बुधवार दोपहर 2 बजे तक कंप्लीट शटडाउन रहेगा. वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने आज सुबह ट्वीट कर रथ यात्रा के अवसर पर सभी को बधाई दी है.

Jagannath Rath Yatra, पुरी में भारी सुरक्षाबल के बीच भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा शुरू, राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने दी बधाई

18 जून को जारी हुआ था रोक का आदेश

मालूम हो कि रथयात्रा पर रोक का आदेश 18 जून को चीफ़ जस्टिस की तीन जजों की बेंच ने दिया था. इस आदेश में संशोधन की मांग को लेकर दर्जन भर याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर हुई हैं, जो सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई के लिए एक जज की बेंच जस्टिस एस रविन्द्र भट्ट के सामने लगी थीं.

यह क़ानूनी पेंच है कि एक जज तीन जजों की बेंच के आदेश में संशोधन नहीं कर सकती, इसलिए केंद्र सरकार ने आज ये मामला सुप्रीम कोर्ट में बैठे दो जजों वाली जस्टिस अरुण मिश्रा की बेंच के सामने रखा. जिस पर जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा कि वह चीफ़ जस्टिस से मशवरा करके आधे घंटे बाद सुनवाई करेंगे, क्योंकि 18 जून को रथयात्रा पर रोक लगाने का आदेश चीफ़ जस्टिस की बेंच ने दिया था.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts