एक ने दबाया मुंह, बाकी करते रहे रेप, दम घुटने से हुई हैदराबाद में डॉक्‍टर की मौत

पुलिस जांच के मुताबिक, जब आरोपी महिला डॉक्टर के साथ रेप करने की कोशिश कर रहे थे, तो वे जोर से चिल्लाने लगीं.

हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुई घिनौनी घटना ने देश को हिला कर रख दिया है. पुलिस इस मामले में चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं पुलिस ने जब इन आरोपियों से पूछताछ की तो ऐसी बातें सामने आईं, जिन्हें सुनकर हर कोई दंग रह गया.

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि इस वहशी हरकत को अंजाम देने के दौरान आरोपी मोहम्मद पाशा ने पीड़िता का जोर से मुंह दबा रखा था, जबकि अन्य उसके साथ गैंगेरप जैसी जघन्य वारादात को अंजाम दे रहे थे. बताया जा रहा है कि जब पीड़िता का मुंह बंद किया, तभी उनकी मौत हो गई थी, लेकिन आरोपी फिर भी रेप करते रहे.

आरोपी ने उनका इतनी जोर से मुंह दबाया हुआ था कि वे चीखकर किसी को मदद के लिए न बुला सके. इस घटना को साजिश के तहत अंजाम दिया गया था. आरोपियों ने ही पहले महिला डॉक्टर की स्कूटी को पंक्चर किया और मदद के बहाने उसे अगवा कर रेप किया.

पुलिस जांच के मुताबिक, जब आरोपी महिला डॉक्टर के साथ रेप करने की कोशिश कर रहे थे, तो वे जोर से चिल्लाने लगीं. इससे आरोपी डर गए कि कहीं महिला डॉक्टर की आवाज सुन लोग न आ जाएं और वे पकड़े न जाएं. महिला डॉक्टर को चिल्लाने से रोकने के लिए उनका जोर से मुंह दबाया गया और सांस न ले पाने के कारण उनकी मौत हो गई.

इस घटना के बाद से लोगों में गुस्सा है. शादनगर पुलिस स्टेशन के सामने सैंकड़ों लोगों ने इकट्ठे होकर, पीड़िता के आरोपियों को जल्द फांसी देने की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया.

लोगों के विरोध प्रदर्शन के कारण पुलिस को आरोपियों को कोर्ट ले जाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा. जब यह विरोध प्रदर्शन हो रहा था, तब चारों आरोपी पुलिस स्टेशन के अंदर मौजूद थे.

लोगों को तित्तर-बित्तर करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा. इतना ही नहीं लोगों के विरोध प्रदर्शन के कारण आरोपियों का पुलिस स्टेशन के अंदर ही मेडिकल टेस्ट कराना पड़ा.

 

ये भी पढ़ें-   त्रेता युग जैसी बसेगी नई अयोध्या, पहले चरण में 7000 करोड़ रुपए खर्च करेगी योगी सरकार

मौका मिलते ही ट्रेन अटेंडेंट की सीट पर क्‍यों पसर गए संजय मिश्रा, देखें