राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका, राहुल गांधी ने अब जेपीसी जांच की उठाई मांग

सुरजेवाला ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ कहा है कि संवैधानिक वजहों से सुप्रीम कोर्ट के हाथ बंधे हो सकते हैं पर जांच एजेंसियों की नहीं.
Rafale deal, राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका, राहुल गांधी ने अब जेपीसी जांच की उठाई मांग

सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले में जांच के लिए दायर सभी याचिकाएं ख़ारिज कर दी है. इस फैसले के बाद बीजेपी ख़ुशी मना रही है और राहुल गांधी को माफी मांगने के लिए कह रही है. वहीं कांग्रेस इस मामले में अब जेपीसी जांच की मांग कर रही है.

वहीं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल डील की सुनवाई करने वाली बेंच में शामिल जस्टिस जोसेफ के बयान का जिक्र करते हुए कहा है कि अब सुप्रीम कोर्ट ने जांच के दरवाजे खोल दिए हैं.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जोसेफ ने राफेल घोटाले की जांच के लिए बड़ा द्वार खोला है. इस पर पूरी गंभीरता से जांच शुरू होनी चाहिए. साथ ही इस घोटाले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति (JPC) भी गठित करने की जरूरत है.’

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट का निर्णय यह साबित करता है कि राफेल केस की आपराधिक जांच का रास्ता सुप्रीम कोर्ट ने खोल दिया है.

सुरजेवाला ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ कहा है कि संवैधानिक वजहों से सुप्रीम कोर्ट के हाथ बंधे हो सकते हैं पर जांच एजेंसियों की नहीं.

सुरजेवाला ने कहा कि राफेल मामले के कई पहलू संविधान के अनुच्छेद 32 से बाहर का है. अनुच्छेद 32 सुप्रीम कोर्ट के हाथ बांधता है पर पुलिस या सीबीआई के नहीं. कोर्ट ने पैरा 73 और 87 में साफ़ कहा है. इस मामले में सबूत जुटाना जांच एजेंसियों की ज़िम्मेदारी है क्योंकि उनके हाथ खुले हैं. कोर्ट ने कहा है किसी तरह की जांच में कोर्ट का आज का या पिछला फैसला कोई अड़चन नहीं डालेगा.

Related Posts