कोरोना: मुंबई के KEM अस्पताल में कोविशील्ड वैक्सीन का मानव परीक्षण शुरू

वैक्सीन के मानव परीक्षण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा कोविशील्ड वैक्सीन को विकसित किया गया है और भारत में पुणे की सीरम इंस्टिट्यूट इसे तैयार कर रही है.

Oxford Covishield Vaccine

मुंबई के किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल (KEMH) में कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield vaccine) का मानव परीक्षण शुरू हो गया है. अस्पताल के डीन हेमंत देशमुख ने कहा कि शनिवार को तीन लोगों पर वैक्सीन का मानव परीक्षण किया जाएगा. वैक्सीन के मानव परीक्षण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. उन्होंने कहा कि हम अब तक 13 लोगों की स्क्रीनिंग कर चुके हैं. इनमें से 10 लोगों की स्क्रीनिंग शुक्रवार को पूरी की.

पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट ने ब्रिटिश स्वीडिश फार्मा कंपनी AstraZeneca के साथ कोविड-19 वैक्सीन कैंडिडेट की मैन्युफैक्चरिंग के लिए समझौता किया है, जिसे ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने विकसित किया है. वैक्सीन के पहले शॉट को शनिवार को विकसित किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- कोरोनावायरस वैक्सीन बनाने के लिए डब्ल्यूएचओ अधिकारी ने की रूस की सराहना

उन्होंने कहा कि मानक परीक्षण प्रक्रिया के हिस्से के रूप में एक अन्य व्यक्ति को प्लेसीबो मिलेगा. केईएम मुंबई का पहला अस्पताल है जहां सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित किए जा रहे टीके का मानव परीक्षण होगा. बता दें कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा कोविशील्ड वैक्सीन को विकसित किया गया है और भारत में पुणे की सीरम इंस्टिट्यूट इसे तैयार कर रही है.

पीजीआई चंडीगढ़ में भी चल रहा वैक्सीन का ट्रायल

वहीं पीजीआई चंडीगढ़ में इस वैक्सीन के अंतिम चरण के ट्रायल की प्रक्रिया शुरू हो गई है. बता दें कि देश में इस वैक्सीन के ट्रायल के लिए 17 संस्थानों का चयन किया गया है. पीजीआई, चंडीगढ़ भी इसमें शामिल है.

डाटा सेफ्टी एंड मॉनिटरिंग बोर्ड नई दिल्ली से अप्रूवल मिलने के बाद पीजीआई चंडीगढ़ में बुधवार से तीसरे यानी अंतिम चरण के ह्यूमन ट्रायल की प्रक्रिया शुरू हुई है. ट्रायल के लिए बुधवार को पीजीआई में 10 वॉलंटियर्स को चुना गया. सभी की जरूरी जांच की गई और ट्रायल के लिए फिट पाया गया है.

ये भी पढ़ें- फिनलैंड: स्निफर डॉग्स करेंगे कोरोना संक्रमितों की पहचान, हेल्सिंकी एयरपोर्ट पर तैनात

Related Posts