जीडीपी के आंकड़ों के बाद भड़के पी चिदंबरम, कहा- इंसान की बनाई आपदा के लिए भगवान को न दें दोष

पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि ईश्वर को दोष मत दो. वास्तव में आपको ईश्वर का शुक्रिया अदा करना चाहिए. ईश्वर ने देश के किसानों को आशीर्वाद दिया है, लेकिन आप महामारी, एक प्राकृतिक आपदा को एक मानव आपदा के साथ मिला रहे हैं.

  • TV9.com
  • Publish Date - 8:50 pm, Tue, 1 September 20
बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी द्वारा लगाई गई वादों की झड़ी पर कांग्रेस ने जमकर निशाना साधा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अर्थव्यवस्था पर कोरोनोवायरस के प्रभाव को “एक्ट ऑफ गॉड” बताने पर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने तीखा प्रतिक्रया दी है. उन्होंने कहा मानव निर्मित आपदा (Man Made Disaster) के लिए भगवान को दोष न दें.

पूर्व वित्त मंत्री ने जीडीपी में 24 फीसदी गिरावट के एक दिन बाद एक इंटरव्यू में भारत के रिकॉर्ड में अब तक के सबसे खराब आर्थिक हालात का संकेत दिया और सरकार के राहत पैकेज को मजाक बताया.

“ईश्वर का शुक्रिया अदा करे सरकार”

उन्होंने कहा, “ईश्वर को दोष मत दो. वास्तव में आपको ईश्वर का शुक्रिया अदा करना चाहिए. ईश्वर ने देश के किसानों को आशीर्वाद दिया है, लेकिन आप महामारी, एक प्राकृतिक आपदा को एक मानव आपदा के साथ मिला रहे हैं.”

मालूम हो कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि अर्थव्यवस्था Covid-19 महामारी से प्रभावित हुई है, जो कि एक एक्ट ऑफ गॉड है और इससे चालू वित्त वर्ष में इसमें संकुचन आएगा.

“मुख्य आर्थिक सलाहकार को कोई गंभीरता से लेता है?”

चिदंबरम ने मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यम के दावों पर सवाल उठाते हुए कहा कि मुझे नहीं पता कि कोई भी मुख्य आर्थिक सलाहकार को गंभीरता से लेता है. उनकी आखिरी बार प्रधानमंत्री के साथ बातचीत कब हुई थी? वे महीनों से अर्थव्यवस्था में वी-शेप की रिकवरी की भविष्यवाणी कर रहे हैं.

आम बोलचाल की भाषा में उन्होंने कहा कि घाटे को कम करने के लिए सरकार को मुद्रा छापनी चाहिए. पूर्व मंत्री ने कहा, “यह समय उधार लेने, खर्च करने, मांग बढ़ाने, गरीबों के हाथों में पैसा लगाने का है, ताकि खपत बढ़े.”

“सरकार के लिए शर्म की बात”

वहीं इससे पहले सोमवार को एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में पी चिदंबरम ने कहा कि जीडीपी का अनुमान सरकार के लिए “आश्चर्य और शर्म की बात” होना चाहिए, क्योंकि इन्होंने राजकोषीय गिरावट को कम करने के लिए कुछ नहीं किया.

ये भी पढ़ें: जीडीपी ग्रोथ रेट में बड़ी गिरावट पर चिदंबरम ने कसा तंज, बोले- सरकार को आनी चाहिए शर्म