अदनान सामी को पद्मश्री देने पर विरोध, MNS नेता ने कहा- ‘4 साल के भीतर क्यों दिया गया अवॉर्ड’

पद्म श्री पुरस्कार की घोषणा होने के बाद अदनान सामी ने भारत सरकार को शुक्रिया कहा है. एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि किसी भी कलाकार के लिए वह महान क्षण होता है, जब उसे उसकी सरकार पहचानती है.

भारत कें अपनी आवाज का जादू का बखेरने वाले पाकिस्तान में जन्मे अदनान सामी को पद्म श्री अवॉर्ड दिए जाने की घोषणा की गई है. हालांकि इसको लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) ने आपत्ति जाहिर की है. एमएनएस ने अदनान सामी को पद्म श्री सम्मान दिए जाने को लेकर सवाल उठाया है.

एमएनएस की सिनेमा इकाई के अध्यक्ष एमे खोपकर ने कहा है कि आखिर ऐसी क्या जल्दी हो गई कि भारत की नागरिकता लेने के चार साल के भीतर ही सामी को पद्म श्री से नवाजा जा रहा है.


पद्म श्री पुरस्कार की घोषणा होने के बाद अदनान सामी ने भारत सरकार को शुक्रिया कहा है. एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि किसी भी कलाकार के लिए वह महान क्षण होता है, जब उसे उसकी सरकार पहचानती है.

मैं बेहद खुश हूं और बहुत आभारी हूं कि मुझे पद्म श्री सम्मान दिया जा रहा है. मुझे संगीत की दुनिया काम करते हुए 34 साल हो गए. बहुत शुक्रिया.न बाग में प्रदर्शनकारी इसे ”सुन” रहे होंगे। मंत्री ने शनिवार (25 जनवरी) को ट्वीट किया, ”मुझे उम्मीद है कि शाहीन बाग सुन रहा है। भारत नागरिकता छीनने में भरोसा नहीं करता.”

Related Posts