भारतीय जवानों को उकसाने के लिए पाक ने खेला गंदा खेल, POK के लोगों को भेज रहा सरहद

सूत्रों के अनुसार, पाक सेना ने इन लोगों को उकसाकर नियंत्रण रेखा के करीब तक जान-बूझकर आने दिया ताकि यह लोग नियंत्रण रेखा को पार करने का प्रयास करें और भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में कई लोग मारे जाएं.

नई दिल्ली: पाक सेना और उसकी खुफिया एजेंसी आइएसआइ नियंत्रण रेखा (LOC) पर तनाव बढ़ाने की साजिश रच रहे हैं. इसके लिए पाकिस्तान गुलाम कश्मीर के लोगों को बलि का बकरा बनाने से भी नहीं चूक रहा.

पाक सेना ने अपने लोगों के साथ ग्रामीणों को उकसाया और नियंत्रण रेखा के पास ले आए. लक्ष्य था कि भारतीय सेना धैर्य खो दे और फिर नागरिकों की मौत को पाकिस्तान मुद्दा बना सके पर भारतीय जवानों ने धैर्य बनाए रखा और यह लोग नियंत्रण रेखा के आसपास हंगामा कर लौट गए. इससे पाक के नापाक मंसूबे एक बार फिर विफल हो गए.

राजौरी के केरी व लाम सेक्टर के बीच गुलाम कश्मीर के खुजरेटा शहर के करीब है चरोई. पाक सेना के उकसावे पर यहां बुधवार को गांव से नियंत्रण रेखा तक रैली का आयोजन किया गया. बताया जा रहा है कि इसमें आसपास से भी लोगों को भरकर लाया गया. इनमें से अधिकतर लोग नियंत्रण रेखा से पहले ही रुक गए लेकिन पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के उकसावे पर कुछ नियंत्रण रेखा के करीब पहुंच हंगामा करने लगे.

इन लोगों ने भारतीय चौकियों के सामने पेड़ों पर चढ़कर तनाव बढ़ाने का प्रयास किया लेकिन जवानों ने गजब के धैर्य का नमूना पेश किया. सूत्रों के अनुसार, पाक सेना ने इन लोगों को उकसाकर नियंत्रण रेखा के करीब तक जान-बूझकर आने दिया ताकि यह लोग नियंत्रण रेखा को पार करने का प्रयास करें और भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में कई लोग मारे जाएं.

इससे सीमा पर तनाव का माहौल होगा और पाकिस्तान के जुल्म से आजिज आ चुके गुलाम कश्मीर के लोगों में भारत के खिलाफ नाराजगी आएगी. साथ ही पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मीडिया के माध्यम से इसका दुष्प्रचार कर पाएगा. पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी यह भी चाहती थी इन लोगों के शवों को दिखाकर वे गुलाम कश्मीर में आतंकियों की भर्ती कर पाएंगे.