कॉरिडोर के जरिए आर्थिक हालात सुधारने की कवायत में पाकिस्तान, प्रति यात्री वसूल रहा 1400 रुपए

पाकिस्तान इस कॉरिडोर का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारे जाने वाले श्रद्धालुओं से प्रति तीर्थ यात्री 20 डॉलर यानी लगभग 1,400 रुपए की मांग कर रहा है.
कॉरिडोर, कॉरिडोर के जरिए आर्थिक हालात सुधारने की कवायत में पाकिस्तान, प्रति यात्री वसूल रहा 1400 रुपए

आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को करतारपुर कॉरिडोर के तौर पर अपनी आर्थिक हालात सुधरने का मौका तलाश रहा है. 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्धघाटन करने से पहले ही पाकिस्तान ने इसी कोशिश में एक अड़ंगा श्रद्धालुओं के रास्ते में लगा दिया है. दरअसल पाकिस्तान ने करतारपुर गुरुद्वारा साहिब के दर्शन करने के लिए 20 डॉलर की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन राशि की मांग की है.

पाकिस्तान इस कॉरिडोर का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारे जाने वाले श्रद्धालुओं से प्रति तीर्थ यात्री 20 डॉलर यानी लगभग 1,400 रुपए की मांग कर रहा है. हालांकि भारत और पाकिस्तान के बीच इस मसले पर अभी तक कोई सहमति नहीं बन सकी है और भारत ने पाकिस्तान से इस शुल्क पर एक बार फिर से विचार करने के लिए भी कहा है.

मालूम हो कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ऐलान किया था कि 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया जाएगा. यह कॉरिडोर भारत स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारे को पाकिस्तान स्थित करतारपुर के दरबार साहिब से जोड़ेगा. इस कॉरिडोर से दरबार साहिब दर्शन के लिए जाने वाले तीर्थ यात्रियों को स्पेशल परमिट लेना पड़ेगा.

ये भी पढ़ें: भारत ने उड़ाया तोपखाना, मारे आतंकी.. तो पाकिस्तान ने यूं बांधा झूठ का पुलिंदा

Related Posts