पायलट ने खड़े किए हाथ तो आगे आया पैसेंजर, लैंड करा दिया प्लेन

पायलट कोहरे में फ्लाइट लैंड नहीं करा पा रहा था. इसके बाद एयरलाइंस ने यात्रियों से पूछा कि अगर कोई अनुभवी पायलट हो, तो वो उनकी मदद करे. फिर एक पैसेंजर मदद के लिए आगे आया.
aeroplane passenger becomes pilot, पायलट ने खड़े किए हाथ तो आगे आया पैसेंजर, लैंड करा दिया प्लेन

पुणे से दिल्ली आ रही इंडिगो एयरलाइंस की फ्लाइट के पायलट को प्लेन लैंड कराने में दिक्कत हुई तो एक पैसेंजर ने पायलट की मदद कर प्लेन को पूरी सेफ्टी के साथ लैंड करवा दिया. घटना 30 नवंबर की है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसी फ्लाइट से इंडिगो के एक अन्य कैप्टन अपनी ड्यूटी खत्म होने के बाद दिल्ली में अपने घर लौट रहे थे. इन कैप्टन के पास कैट-3बी प्रशिक्षण और कोहरे में विमान उड़ाने का पर्याप्त अनुभव था.

इस कारण यात्रियों को असुविधा से बचाने के लिए एयरलाइंस प्रबंधन ने इस यात्री पायलट से ही विमान उड़ाने का आग्रह किया. इसक बाद ही विमान उड़ान भरकर दिल्ली पहुंच पाया. इस संबंध में इंडिगो ने एक बयान जारी किया है.

”शनिवार की सुबह दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर विज़िबिलिटी बेहद कम थी. ऐसे में ज़रूरी था कि यहां आने वाली हर फ्लाइट में CAT -3B क्रू हो. विमान संख्या 6E- 6571 में जो कैप्टन थे वो CAT-3B ट्रेंड नहीं थे. विमान की लैंडिंग में देरी की बजाए विमान में यात्री के तौर पर मौजूद एक इंडिगो के ही CAT IIIB ट्रेंड पायलट की मदद लेने का फैसला किया गया. ताकि यात्रियों को परेशानी न हो. क्रू बदलने से पहले सभी जरूरी अप्रूवल ले लिए गए थे.”

बता दें कि, यात्री पायलट को सीधे कॉकपिट में प्रवेश नहीं दिया गया बल्कि उन्हें पहले ब्रीथ एनेलाइजर समेत उन सभी अनिवार्य टेस्ट से गुजरना पड़ा, जो विमान उड़ाने से पहले पायलट को देने पड़ते हैं.

इसके अलावा विमान का कैप्टन बदलने के लिए सभी तरह की आंतरिक मंजूरियां भी ली गईं और उनका नाम रोस्टर में भी शामिल कराया गया. हालांकि, उन्होंने बिना यूनिफॉर्म के प्लेन उड़ाई.

Related Posts