Video: फोनी तूफान गुजरने के बाद सरकार थपथपा रही है पीठ, लेकिन पीने के पानी को तरस रहे हैं लोग

लोगों का कहना है कि सरकार ने तूफान पीड़ितों को कई सुविधाएं देने का दावा किया था लेकिन तूफान के गुजर जाने के बाद भी वे लोग खाना और पानी जैसी बुनियादी चीजों के लिए तड़प रहे हैं.

पुरी: फोनी तूफान ओडिशा में तबाही मचाने के बाद थम गया है. इस भीषण तूफान की चेतावनियों के समय से ही सरकार दावे कर रही थी कि उसने इससे निपटने के लिए कई पुख्ता इंतजाम किए थे. सरकार ने तूफान के आने से लेकर उसके जाने के बाद तक की पुख्ता तैयारियों के भी दावे किए थे.

हालांकि इन तमाम दावों की पोल खुली पुरी के समुंद्र तट से चंद किलोमीटर दूर लिंगीपुर में. दरअसल सरकार भले ही लोगों को सभी जरूरू सुविधा महैया कराने के दावे कर रही हो लेकिन लिंगीपुर के रामचंडीशाही बालीकुदा गांव में लोगों को तूफान के कई घंटों बाद भी खाना तो दूर पीने का पानी तक नसीब नहीं हुआ है.

स्थानीय लोगों से जब टीवी9 भारतवर्ष ने बात की तो लोगों ने अपना दर्द बयां किया. उन्होंने कहा कि सरकार ने खाना-पानी समेत कई सुविधाएं देने का दावा किया था लेकिन तूफान के गुजर जाने के बाद भी वे लोग खाना और पानी जैसी बुनियादी चीजों के लिए तड़प रहे हैं.

लोगों के आस-पास फोनी की तबाही में उजड़ी उनकी झोपड़ियों का मलबा बिखरा पड़ा है. मलबे के बीच खड़े लोगों में कई महिलाएं और बच्चे भी हैं. जो कि पानी और खाने के मोहताज हैं. लेकिन तूफान की तबाही से निपटने के लिए अपनी पीठ थपथपा रही सरकार का कोई भी नुमाइंदा अब तक उनके पास नहीं पहुंचा है.

ये भी पढ़ें: OMG! सांप ने बुजुर्ग को काटा, उसने सांप को काट लिया, दोनों मर गए