पीएम मोदी ने दूसरे कार्यकाल का किया आगाज, पहले फैसले में शहीदों के बच्चों की छात्रवृति बढ़ाई

प्रधानमंत्री मोदी के इस फैसले के तहत आतंकवादी और माओवादी हमलों में शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों के बाच्चों को भी शामिल किया गया है.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत की. अपनी दूसरी पारी के आगाज में पीएम मोदी ने पहला फैसला शहीदों के नाम किया. उन्होंने देश के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले सैनिकों के बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृति में बढ़ोतरी का ऐलान किया है.

प्रधानमंत्री मोदी के इस फैसले के तहत आतंकवादी और माओवादी हमलों में शहीद होने वाले पुलिसकर्मियों के बाच्चों को भी शामिल किया गया है. प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विटर के जरिए ये जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि नेशनल डिफेंस फंड के तहत शहीदों के बच्चों को मिलने वाली छात्रवृत्ति में बढ़ोतरी को प्रधानमंत्री ने मंजूरी दी है.

प्रधानमंत्री मोदी के इस फैसले के तहत लड़कों को मिलने वाली छात्रवृत्ति को 2000 रुपए प्रति माह से बढ़ा कर 2500 रुपए प्रति माह तक कर दी गई हैं. वहीं लड़कियों को मिलने वाली 2250 रुपए प्रति माह मिलने वाली छात्रवृति को बढ़ाकर 3000 रुपए प्रति माह कर दी गई है.

छात्रवृत्ति योजना के इस दायरे में उन राज्य पुलिस अधिकारियों के बच्चों को भी शामिल किया गया है जो आतंकी या नक्सली हमलों के दौरान शहीद हुए हैं. राज्य पुलिस अधिकारियों के बच्चों के लिए नई छात्रवृत्ति का कोटा एक साल में 500 होगा. गृह मंत्रालय इस संबंध में नोडल मंत्रालय होगा.

ये भी पढ़ें: रमेश पोखरियाल निशंक उत्तराखंड के ऐसे पहले सांसद जो सीधे बने कैबिनेट मंत्री