Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा
Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा

Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा

विदेश सचिव ने बताया कि दोनों की नेताओं की अब तक 17 मीटिंग हो चुकी हैं. दोनों नेता इस बात पर मशविरा कर रहे थे कैसे द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत किया जाए. प्रेसिडेंट जिनपिंग ने बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी है कि चीन के एक शहर में तमिलों द्वारा बनाये गए एक पुराने मंदिर मिले हैं.
Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा

महाबलीपुरम: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारत दौरे पर हैं. यहां पहुंचने के बाद एयरपोर्ट से लेकर और तमिलनाडु के सबसे प्राचीन शहर महाबलीपुरम तक उनका भव्य स्वागत किया गया. दोनों ही नेताओं से साथ में डिनर किया. दोनों की नेताओं को बड़े ही गर्मजोशी के साथ मिलते हुए देखा गया. मुलाकात के बात विदेश सचिव का बयान आया है. उन्होंने बताया कि करीब पांच घंटे तक दोनों नेता साथ-साथ रहे और ज्यादातर समय में दोनों नेता आपस में ही बात करते हैं.

विदेश सचिव ने बताया कि दोनों की नेताओं की अब तक 17 मीटिंग हो चुकी हैं. दोनों नेता इस बात पर मशविरा कर रहे थे कैसे द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत किया जाए. प्रेसिडेंट जिनपिंग ने बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी है कि चीन के एक शहर में तमिलों द्वारा बनाये गए एक पुराने मंदिर मिले हैं.

डिनर के दौरान करीब ढाई घंटे की वन-टू-वन बातचीत में दोनों नेताओं ने बढ़ते आतंकवाद और कट्टरता को बड़ी चुनौती मानते हुए इसके खिलाफ साथ मिलकर काम करने पर सहमति जताई. इस दौरान दोनों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देने तथा व्यापार सहित कई मुद्दों पर चर्चा हुई. अब सबकी निगाह शनिवार सुबह होने वाली शिखर वार्ता पर हैं. जिसमें मुख्य फोकस सीमा विवाद सहित विवादित मुद्दों से आगे बढ़ने पर होगा.

गोखले ने बताया कि दोनों के बीच आर्थिक और व्यापारिक मुद्दों पर भी मंथन हुआ. इस बात पर भी विचार हुआ कि कैसे व्यापार को बढ़ाया जाए. चर्चा के दौरान मोदी ने व्यापार घाटे और असंतुलित व्यापार को सुधारने का भी मुद्दा उठाया.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, मोदी और जिनपिंग ने डिनर के बाद भारत-चीन की साझेदारी को मजबूत करने को लेकर विचारों का आदान-प्रदान जारी रखा. कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाने के बाद चीन से संबंधों में उतार-चढ़ाव के बीच हो रही जिनपिंग की यह यात्रा काफी अहम मानी जा रही है.  प्रधानमंत्री मोदी ने तोहफे के रूप में तंजावुर की एक पेंटिंग और एक नचियारकोइल दीप दिया. पेंटिंग में देवी सरस्वती को वीणा बजाते हुए देखा जा सकता है.

इस दीप को नचियारकोइल ब्रांच का अन्नम दीप कहा जाता है. इसे आठ मशहूर कलाकारों ने मिलकर तैयार किया है. छह फीट ऊंचे और 108 किलोग्राम वजन के इस दीप को पीतल से बनाया गया है, जिस पर सोने की परत चढ़ी है. इसे बनाने में कुल 12 दिन का समय लगा. सबसे पहले इसे पैथर समुदाय के लोगों ने बनाया था. ये लोग 1857 में पहले नागरकोइल से त्रावणकोर आए थे फिर वहां से नचियारकोइल आकर बस गए.

तंजावुर पेटिंग लकड़ी पर की जाने वाली काफी पुरानी पेंटिंग है. इसे तमिलनाडु के शहर तंजावुर का नाम दिया गया है. इसकी शुरुआत 16वीं शताब्दी के आसपास मानी जाती है. इसमें ज्यादातार हिंदू देवी-देवताओं, संतों या फिर पुराणों की कथाओं का वर्णन किया जाता है. शी चिनफिंग को दी जा रही पेंटिंग को बी लोगनाथन ने तैयार किया है. यह पेंटिंग तीन फीट ऊंची, चार फीट चौड़ी और 40 किलोग्राम वजन की है. इस तैयार करने में 45 दिन का समय लगा है

Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा
Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा

Related Posts

Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा
Article 370 मोदी शी जिनपिंग, Article 370 खत्म होने के बाद बेहद अहम है शी जिनपिंग का दौरा, आज POK पर हो सकती है चर्चा