पाकिस्तान के एयरस्पेस से भी पीएम मोदी ने बनाई दूरी, अब इस रास्ते जाएंगे बिश्केक

इससे पहले भारत ने पाकिस्‍तान से उसके हवाई क्षेत्र से होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विमान गुजारने की अनुमति मांगी थी.

नई दिल्ली: पीएम मोदी ने पाकिस्तान के हवाई रूट से भी दूरी बना ली है, यानी कि प्रधानमंत्री यात्रा के लिए अब पाकिस्तान एयरस्पेस का भी इस्तेमाल नहीं करेंगे. पीएम मोदी किर्गिस्‍तान के बिश्केक जाने के लिए ओमान, इरान और सेंट्रल एशिया के रास्ते का इस्तेमाल करेंगे.

पीएम मोदी को शंघाई सहयोग संगठन (SCO) सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के लिए किर्गिस्‍तान के बिश्केक जाना था जिसके लिए उन्हें पाकिस्तान का एयरस्पेस इस्तेमाल करना होता, लेकिन पाकिस्तान की आतंकवादी गतिविधियों की वजह से भारत ने इस रूट से दूरी बनाने का फ़ैसला किया है.

भारत काफी समय से कहता रहा है कि पाकिस्तान जब तक अपनी ज़मीन से होने वाली आतंकी गतिविधियों पर रोक नहीं लगाएगा तब तक दोनों देशों के बीच बातचीत नहीं होगी.

इससे पहले भारत ने पाकिस्‍तान से उसके हवाई क्षेत्र से होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विमान गुजारने की अनुमति मांगी थी. जिसके बाद पाकिस्तान ने भारत की मांग मान कर उन्हें यात्रा की अनुमति दे दी थी लेकिन भारत ने आंतिम समय में अपना निर्णय बदल लिया.

दरअसल शंघाई सहयोग संगठन (SCO) सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के लिए मोदी को किर्गिस्‍तान के बिश्केक जाना है. इसके लिए उन्‍हें पाकिस्‍तान से होकर जाना पड़ेगा. पाकिस्‍तान 21 मई को यहीं पर हुई SCO के विदेश मंत्रियों की बैठक के लिए तत्‍कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज को विशेष अनुमति दे चुका है.

सरकार के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा, “हमने पाकिस्‍तान से पीएम के विमान को उसके हवाई क्षेत्र के उस रूट से होकर उड़ने की अनुमति मांगी है जो अभी खोला नहीं गया है.” पाकिस्‍तान ने 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना की बालाकोट में एयर स्‍ट्राइक के बाद अपना एयरस्‍पेस बंद कर दिया था. तब से लेकर उसने सिर्फ दो रूट खोले हैं और दोनों ही दक्षिणी पाकिस्‍तान से होकर गुजरते हैं. पाकिस्‍तान में कुल 11 हवाई रूट हैं.

और पढ़ें- कल तक लिया अफीम और गांजा, अब ब्रिटिश पीएम बनने की दौड़ में ये नेता

एयरलाइंस झेल रहीं नुकसान
IAF ने 31 मई को घोषणा की थी कि वह भारतीय हवाई क्षेत्र पर लगे सभी प्रतिबंध हटा रही है. हालांकि इससे किसी व्‍यापारिक एयरलाइंस को तब तक फायदा नहीं होगा जब तक पाकिस्‍तान भी अपना पूरा हवाई क्षेत्र न खोल दे.

पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस के बंद होने से एयर इंडिया और इंडिगो की अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों पर असर पड़ा है. इंडिगो ने दिल्‍ली से इस्‍तांबुल के लिए डायरेक्‍ट फ्लाइट शुरू कर दी है. एयर इंडिया भी पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस बंद होने के चलते दिल्‍ली से अमेरिका वाली नॉन-स्टाप फ्लाइट नहीं चला पा रहा.

पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र पर रोक के कारण एयर इंडिया की उड़ान को नई दिल्ली से अमेरिका जाने में अब दो-तीन घंटे अधिक लगते हैं. वहीं, यूरोप की उड़ानों को करीब दो घंटे अधिक लगते हैं, जिससे वित्तीय नुकसान होता है. अमेरिकी विमान सेवा कंपनी यूनाइटेड ने दिल्ली-नेवार्क की उड़ान अस्थाई रूप से रद्द कर दी है और हालात पर उसकी नजर है.

और पढ़ें- दूसरी बार सत्ता में आते ही मोदी सरकार ने दिया मुस्लिमों को सबसे बड़ा तोहफा