जब अपने सांसदों से बोले पीएम मोदी- अबकी अक्‍टूबर में बैठना मत!

हर लोकसभा क्षेत्र में 150 किलोमीटर लंबी पदयात्रा निकाली जाएगी. इसके जरिए महात्‍मा गांधी के आदर्शों को फैलाया जाएगा.

नई दिल्‍ली: भारतीय जनता पार्टी (BJP) संसदीय बोर्ड की मंगलवार को बैठक हुई. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह सिंह समेत कई केंद्रीय मंत्री शामिल हुए. केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पत्रकारों को जानकारी दी कि पीएम मोदी ने सांसदों को गांधी जयंती पर क्‍या टास्‍क दिया है. उन्‍होंने सांसदों को निर्देश दिए हैं वे अक्‍टूबर महीने में बैठे नहीं, बल्कि पदयात्रा कर लोगों को बापू के आदर्शों के बारे में बताएं.

जोशी ने बताया कि अपने संबोधन में पीएम ने महात्‍मा गांधी की 150 जयंती से जुड़े कार्यक्रम ‘गांधी 150’ के बारे में बताया. 2 अक्‍टूबर को गांधी जयंती से लेकर 31 अक्‍टूबर को सरदार पटेल जयंती तक देशव्‍यापी कार्यक्रम होंगे. इस दौरान हर लोकसभा क्षेत्र में 150 किलोमीटर लंबी पदयात्रा निकाली जाएगी. इसमें सांसद, विधायक से लेकर सामान्‍य कार्यकर्ता भी शामिल होंगे.

राज्‍यसभा सांसदों को क्षेत्र अलॉट किया जाएगा. हर क्षेत्र में 15-20 टीमें होंगी. वे रोज 15 किलोमीटर पदयात्रा करेंगी. सांसद गांधी जी, स्‍वतंत्रता संग्राम, पौधारोपण से जुड़े कार्यक्रम आयोजित करेंगे. इस पदयात्रा के जरिए महात्‍मा गांधी के आदर्शों को फैलाया जाएगा.

राजनाथ सिंह ने कहा, “बैठक में अमित शाह ने कहा कि वह पार्टी को पर्याप्‍त समय देने में असमर्थ हैं क्‍योंकि उनके पास केंद्रीय गृह मंत्रालय की भी जिम्‍मेदारी है.

कई दशकों बाद पहली बार ऐसा हुआ जब भाजपा संसदीय दल की बैठक में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सुषमा स्वराज जैसे दिग्‍गज नेता मौजूद नहीं रहे. दरअसल, भाजपा के ये तीनों वरिष्ठ नेता, संसद के किसी भी सदन के सदस्य नहीं है.

ये भी पढ़ें

हज कराने में मोदी सरकार ने तोड़ा मनमोहन सिंह का रिकॉर्ड

पीएम से मिलने आई गुजराती लोक गायिका ने किया बचपन याद, कहा- ‘मोदी ने दिए थे 250 रुपए’