एफएओ की 75वीं वर्षगांठ पर 75 रुपये का स्मृति सिक्का जारी करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

यह सिक्का खाद्य और कृषि संगठन (FAO) और भारत (India) के दीर्घकालिक संबंध को लेकर जारी किया जाएगा. प्रधानमंत्री मोदी इस दौरान हाल ही में विकसित आठ फसलों की 17 प्रजातियों को भी देश को समर्पित करेंगे.

pm modi

संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) की 75 वीं वर्षगांठ पर 16 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 75 रुपये का स्मृति सिक्का जारी करेंगे. यह सिक्का खाद्य और कृषि संगठन और भारत (India) के दीर्घकालिक संबंध को लेकर जारी किया जाएगा. प्रधानमंत्री मोदी इस दौरान हाल ही में विकसित आठ फसलों की 17 प्रजातियों को भी देश को समर्पित करेंगे.

सरकार की ओर से कृषि और पोषण को प्राथमिकता देने की दिशा में यह कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. भूख और कुपोषण को पूरी तरह से समाप्त करने के सरकार के संकल्प को इस कार्यक्रम के जरिए प्रदर्शित करने की तैयारी है. कृषि मंत्री भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे.

भारत का FAO के साथ ऐतिहासिक संबंध

कमजोर वर्ग को पोषक रूप से मजबूत बनाने की दिशा में खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) की अद्वितीय यात्रा रही है. भारत का खाद्य और कृषि संगठन के साथ ऐतिहासिक संबंध रहा है.

‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं’, कोरोना पर पीएम मोदी की महाराष्ट्र को सलाह

भारतीय सिविल सेवा के अफसर डॉ. बिनय रंजन सेन 1956-1967 के बीच खाद्य और कृषि संगठन के डायरेक्टर जनरल रहे. खास बात है कि जिस विश्व खाद्य कार्यक्रम ने नोबल शांति पुरस्कार-2020 जीता, उसकी स्थापना उनके समय ही हुई थी.

कार्यक्रम में ये लोग होंगे मौजूद

इस कार्यक्रम में देश भर के आंगनवाड़ी, कृषि विज्ञान केंद्र और जैविक व बागवानी अभियान से जुड़े लोग शामिल होंगे. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और महिला व बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी इस कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे.

एक लाख परिवारों को संपत्ति कार्ड का वितरण

गौरतलब है कि हाल ही में ग्रामीणों के संपत्ति के अधिकार को नई ऊंचाई देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामित्व योजना की शुरुआत की थी. इसके तहत एक लाख परिवारों को संपत्ति कार्ड दिया गया.

योजना के तहत अगले तीन से चार वर्षो में हर ग्रामीण परिवार को संपत्ति कार्ड देने का लक्ष्य रखा गया है. छह राज्यों के 763 गांवों से हुई इस शुरुआत को ऐतिहासिक बताते हुए प्रधानमंत्री ने इसे आत्मनिर्भर ग्रामीण भारत की दिशा में अहम बताया था.

‘आपकी जमीन पर अब कोई नहीं डाल सकेगा बुरी नजर’, SVAMITVA स्कीम को लॉन्च कर बोले पीएम मोदी

Related Posts