पीएम मोदी ने सभी 5 सचिवों संग की बैठक, बजट समेत सरकार के 100 दिन के एजेंडा पर हुई चर्चा

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को आम बजट पेश करेंगी.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वित्त मंत्रालय के सचिवों, कुछ अन्य मंत्रालयों के सचिवों और नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) से मुलाकात कर केंद्रीय बजट 2019-20 और अर्थव्यवस्था के लिए आगे की योजनाओं पर चर्चा की. दूसरी बार प्रधानमंत्री का पद संभालने के बाद मोदी की खास सचिवों के साथ यह दूसरी बैठक थी. इसके साथ ही सुस्त पड़ती अर्थव्यवस्था में जान फूंकने और रोजगार सृजन को ध्यान में रखते हुए सरकार के 100 दिन के एजेंडा को अंतिम रूप देने का काम किया गया.

सूत्रों के अनुसार, अपने आधिकारिक आवास पर हुई इस बैठक में मोदी ने हर विभाग में सुधार के रोडमैप पर चर्चा की. सूत्रों ने कहा कि बैठक में राजस्व बढ़ाने और जीडीपी दर में बढ़ोतरी के उपायों पर चर्चा हुई. बैठक में सभी पांच सचिव के अलावा अन्य मंत्रालयों के अधिकारी और निति आयोग के अफसर भी मौजूद थे. इस बैठक में देश की अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाने को लेकर 5 साल के दृष्टिकोण पर भी चर्चा की.

इसके अलावा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, किसानों की आय को दोगुना करने, प्रधानमंत्री आवास योजना, सबको पेयजल, सबको बिजली समेत कई अन्य परियोजनाओं को लेकर भी रुपरेखा तैयार की गई.

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को आम बजट पेश करेंगी. माना जा रहा है कि बजट में अन्य मुद्दों के साथ अर्थव्यवस्था को सुस्ती से उबारने, गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों में नगदी के संकट और कृषि क्षेत्र के सामने पेश आ रही चुनौतियों से निपटने के उपाय किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर: पुलवामा में आतंकवादियों ने पुलिस स्टेशन पर फेंका बम, 8 लोग जख्मी, देखें VIDEO

ये भी पढ़ें: VIDEO: शपथ ग्रहण में जय श्रीराम के नारे पर बोले ओवैसी, ‘काश! बिहार में बच्चों की मौत भी याद आती’