• Home  »  टॉपदेशवीडियो   »   ‘किसान, जवान या नौजवान किसी के भी साथ नहीं ये लोग…’, PM मोदी का विपक्ष पर हमला

‘किसान, जवान या नौजवान किसी के भी साथ नहीं ये लोग…’, PM मोदी का विपक्ष पर हमला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिर कृषि कानूनों (PM Modi on Agriculture Laws) का विरोध कर रही विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला है. पीएम मोदी ने कहा कि देश देख रहा है कि कुछ लोग सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:13 pm, Tue, 29 September 20
PM Modi on Agriculture Laws
कृषि कानूनों पर बोले पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिर कृषि कानूनों (PM Modi on Agriculture Laws) का विरोध कर रही विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला है. पीएम मोदी ने कहा कि देश देख रहा है कि कुछ लोग सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं. पीएम ने आगे किसान, जवान और नौजवान का जिक्र करते हुए कहा कि विपक्षी पार्टियां किसी के भी साथ नहीं हैं. मोदी ने यह बात उत्तराखंड से जुड़े एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही.

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज नमामि गंगे के तहत 6 मेगा प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया. इसके साथ-साथ पीएम मोदी ने जल जीवन मिशन का लोगो भी लॉन्च कर दिया. यहां पीएम मोदी ने कृषि कानून, श्रम कानूनों का जिक्र (PM Modi on Agriculture Laws) किया जिनका विपक्ष ने पहले संसद और फिर सड़कों पर विरोध किया.

पढ़ें – क्या है आर्टिकल 254 (2)? क्या इसकी मदद से राज्य रोक सकेंगे कृषि कानूनों का लागू होना

PM मोदी ने कृषि कानून और विपक्ष को लेकर क्या कुछ कहा

  • देश की किसानों, श्रमिकों और देश के स्वास्थ्य से जुड़े बड़े सुधार किए गए हैं. इन सुधारों से देश का श्रमिक सशक्त होगा, देश का नौजवान सशक्त होगा, देश की महिलाएं सशक्त होंगी, देश का किसान सशक्त होगा. लेकिन आज देश देख रहा है कि कैसे कुछ लोग सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं.
  • आज जब केंद्र सरकार, किसानों को उनके अधिकार दे रही है, तो भी ये लोग विरोध पर उतर आए. ये लोग चाहते हैं कि देश का किसान खुले बाजार में अपनी उपज नहीं बेच पाए. जिन सामानों की, उपकरणों की किसान पूजा करता है, उन्हें आग लगाकर ये लोग अब किसानों को अपमानित कर रहे हैं.
  • ये लोग न किसान के साथ हैं, न नौजवानों के साथ और न वीर जवानों के साथ. हमारी सरकार ने वन रैंक वन पेंशन का लाभ सैनिकों को दिया तो उन्होंने इसका भी विरोध किया.
  • वर्षों तक ये लोग (विपक्ष) कहते रहा कि MSP लागू करेंगे, लेकिन किया नहीं. MSP लागू करने का काम स्वामीनाथन कमीशन की इच्छा के अनुसार हमारी ही सरकार ने किया है. आज ये लोग एमएसपी पर भी भ्रम फैला रहे हैं. देश में एमएसपी भी रहेगी और किसान को देश में कहीं भी फसल बेचने की आजादी भी रहेगी. लेकिन ये आजादी कुछ लोग बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं.
  • इस कालखंड में देश ने देखा है कि कैसे डिजिटल भारत अभियान ने, जनधन बैंक खातों ने लोगों की कितनी मदद की है. जब यही काम हमारी सरकार ने शुरू किए थे, तो ये लोग इनका विरोध कर रहे थे. देश के गरीब का बैंक खाता खुल जाए, वो भी डिजिटल लेन-देन करे, इसका इन लोगों ने हमेशा विरोध किया.
  • 4 वर्ष पहले का यही तो वो समय था, जब देश के जांबांजों ने सर्जिकल स्ट्राइक करते हुए आतंक के अड्डों को तबाह कर दिया था. लेकिन ये लोग अपने जांबाजों से ही सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहे थे. सर्जिकल स्ट्राइक का भी विरोध करके, ये लोग देश के सामने अपनी मंशा साफ कर चुके हैं.

नमामि गंगे प्रोजेक्ट पर क्या कुछ बोले पीएम मोदी

  • पानी से जुड़ी चुनौतियों के साथ अब ये मंत्रालय देश के हर घर तक जल पहुंचाने के मिशन में जुटा हुआ है. आज जलजीवन मिशन के तहत हर दिन करीब 1 लाख परिवारों को शुद्ध पेयजल की सुविधा से जोड़ा जा रहा है. सिर्फ 1 साल में ही देश के 2 करोड़ परिवारों तक पीने का पानी पहुंचाया जा चुका है.
  • अगर पुराने तौर-तरीके अपनाए जाते, तो आज भी हालत उतनी ही बुरी रहती. लेकिन हम नई सोच, नई अप्रोच के साथ आगे बढ़े. हमने नमामि गंगे मिशन को सिर्फ गंगा जी की साफ-सफाई तक ही सीमित नहीं रखा, बल्कि इसे देश का सबसे बड़ा और विस्तृत नदी संरक्षण कार्यक्रम बनाया.
  • उत्तराखंड में उद्गम से लेकर पश्चिम बंगाल में गंगा सागर तक गंगा, देश की करीब-करीब आधी आबादी के जीवन को समृद्ध करती हैं. इसलिए गंगा की निर्मलता आवश्यक है, गंगा जी की अविरलता आवश्यक है.