कांग्रेस के बयानों से न हों गुमराह, असम की परंपरा, संस्कृति और भाषा पर नहीं पड़ेगा कोई असर: PM मोदी

पीएम मोदी ने ने कहा कि राममंदिर निर्माण के शांतिपूर्ण हल निकाले जाने के बाद देश ने पूरी दुनिया को एकता का संदेश दिया है.
PM Narendra Modi, कांग्रेस के बयानों से न हों गुमराह, असम की परंपरा, संस्कृति और भाषा पर नहीं पड़ेगा कोई असर: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धनबाद में गुरुवार को कहा कि कांग्रेस में सोच और संकल्प की कमी रही है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने किए गए वादे को पूरा करती है. उन्होंने कहा कि भाजपा राष्ट्रहित की राजनीति करती है और उसके लिए दिन-रात मेहनत करती है.

झारखंड के धनबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और उसके सहयोगियों पर जमकर निशाना साधा. झारखंड के चुनाव प्रचार में चौथी बार झारखंड पहुंचे प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते कुछ सप्ताह उन्होंने झारखंड के अलग-अलग क्षेत्रों में दौरा किया है और एक बात बिल्कुल स्पष्ट है कि पूरे झारखंड में कमल के फूल को लेकर, भाजपा की डबल इंजन की सरकार को लेकर असीम उत्साह है.

उन्होंने भाजपा के प्रत्याशियों को वोट देने की अपील करते हुए कहा कि “भाजपा ही है, जो संकल्प लेने के बाद उसे सिद्घ भी करती है. जो वादा हम देश के लोगों से करते हैं, उस पर पूरी ईमानदारी से अमल करते हैं.”


उन्होंने जम्मू-कश्मीर में 370 हटाए जाने और अयोध्या में राम मंदिर के शांतिपूर्ण हल निकाले जाने का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि राममंदिर निर्माण के शांतिपूर्ण हल निकाले जाने के बाद देश ने पूरी दुनिया को एकता का संदेश दिया है, और आज राम मंदिर निर्माण की सभी बाधाएं हट गई हैं.

उन्होंने कहा, “कांग्रेस ने देश में एक विचित्र राजनीतिक माहौल बनाया था, जिसके कारण घोषणापत्रों पर, नेताओं के वादों पर देशवासियों का भरोसा कम हो गया था. लोगों को लगने लगा था कि नेता चुनाव के दौरान घोषणाएं करते हैं और फिर भूल जाते हैं.”

प्रधानमंत्री ने पूर्वोत्तर राज्यों में तनाव कम करने का वादा करते हुए कहा, “मैं पूर्व और पूर्वोत्तर के हर राज्य को आश्वस्त करता हूं कि असम और अन्य राज्यों की परंपराएं, संस्कृति, भाषा आदि बिल्कुल प्रभावित नहीं होगी. पूर्वोत्तर क्षेत्र में तनाव को कम करने के प्रयास हैं.”


भाजपा के स्टार प्रचाकर की भूमिका में यहां आए प्रधानमंत्री ने नागरिकता संशोधन विधेयक पर चर्चा करते हुए कहा कि “पाकिस्तान, बंगलादेश और अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक लोगों को प्रताड़ित किया जा रहा है. कांग्रेस ने वहां से आए शरणार्थियों को राहत का वादा किया था, लेकिन उनके लिए कभी कुछ नहीं किया. कांग्रेस और उसके सहयोगियों की राजनीति अवैध प्रवासियों पर निर्भर करती है.”

उन्होंने भाजपा द्वारा किए गए कार्यों की चर्चा करते हुए कहा, “बीते छह महीने में जितने भी काम हुए हैं, जितने भी फैसले लिए गए हैं, इनमें से अनेक ऐसे थे, जो दशकों से लटके हुए थे. इनको लटकाने का श्रेय कांग्रेस और उसके सहयोगियों को जाता है, जिन्होंने सबसे ज्यादा समय तक देश पर शासन किया.”

ये भी पढ़ें-

निर्भया के गुनाहगारों को फांसी पर लटकाने के लिए सामने आए 15 वॉलंटियर्स

इस्‍तीफे के बाद से ही होल्‍ड पर नवजोत सिद्धू की सैलरी, कागजों पर अब भी पंजाब के कैबिनेट

Related Posts